video बाघिन ने किया एक युवती का शिकार, युवती की मौके पर मौत

0
176
Spread the love

घटना स्थल होशंगाबाद से 40 किलों मीटर की दूरी पर बागड़ा तवा में यह घटना हूई।

*वन विभाग की लापरवाही*
होशंगाबाद. बाघिन ने यह शिकार 11:30 सुबह किया और वन विभाग की टीम घटना स्थल पर 2:30 दोपहर को घटना स्थल पर पहुची रेसकियो टीम के पास किसी प्रकार की ड्रेस भी नहीं थी और नाही हेलमेड था बाघिन ने भारती नामक युवती उम्र 17 वर्ष् का शिकार करके 2 घंटे तक शव के पास बैठी रही लेकिन वन विभाग की टीम जाने में डर रही थी जब मौके पर पुलिस पहुँची तब ही वन विभाग की टीम जंगल की और आगे बड़ी 100 मीटर की दूरी पर पत्रकारो को रोक दिया गया था। फिर बाघिन को शव के पास से हटाने के लिए ।पहले फटाके की एक लड़ फोड़ा गया और रस्सी बम भी फोड़ा गया इतने में बाघिन ने शव को छोड़ कर भाग गयी ।

बाघिन ने कैसे किया शिकार

बागड़ा के जंगल में 10 लोग आदिवासी लकड़ी लेने गए हुऐ थे ।4 लोग अलग जगह लकड़ी ढूंढ रहे थे और 6 लोग अलग जगह थे 6 लोगो के साथ भारती भी थी जिसकी उम्र 17 वर्ष् थी जब भारती लकड़ीया उठा रही तब अचानक बाघिन ने पीछे से युवती के ऊपर हमला किया तो युवती ने ज़ोर से आवाज की इतने में युवती के साथ जो साथी थे वो लोग घबरा कर पेड़ पर चढ़ गए इतने में बाघिन ने पहले युवती की कमर पर पंजा मारा और गर्दन को दबोज कर पेड़ के पास ले गई और युवती के साथियो ने मौत का तांडव अपनी आँखों से देखा और उस युविता को बचा नहीं पाये।।।

‘एक चुम्मा तू….’ गाने के चक्कर में फंसे गोविंदा-शिल्पा शेट्टी, कोर्ट ने दिए कुर्की के आदेश

बाघिन की दहशत कहाँ कहाँ थी

इससे पहले यह बाघिन पचमढ़ी के सतपुड़ा टाइगर रिजर्व मैं पन्ना से लाकर छौडी गई थी लेकिन इस बाघिन ने मटकुली में रोड पर आकर लोगो में दहशत बना दिया था ।फिर पचमढ़ी से वन विभाग की टीम ने हाथीयो से घेर कर चूरना के जंगल में छौड़ा गया वन विभाग द्वारा बताया जा रहा है की T-213 ही बाघिन है जो चूरना से रात में पानी के डेम में तैरकर बागड़ा के जंगलो में आ गयी ।

बाघिन ने किया एक युवती का शिकार, युवती की मौके पर मौत  VIDEO

https://www.youtube.com/watch?v=RefSEEkmXmM&feature=youtu.be

 

दबंग दुनिया का मालिक किशोर वाधवानी नक्सलियों का आर्थिक मददगार..


युवती के घर के परिजनों को वन विभाग द्वारा 4 लाख रुपये दिए जाएंगे ऐसा वन विभाग के c.f  ने बताया।

  • बागड़ा तवा के बस्ती में रहने वाले आदिवासियों और सरपंच का आरोप है की वन विभाग का ऑफिस पहले बागड़ा में हुआ करता था लेकिन अब सोहागपुर क्यों चला गया इस बारे में बागड़ा के सरपंच ने शिकायत भी की
  • वन विभाग की लापरवाही दिन पे दिन बढ़ती नज़र आ रही है
  • जंगलो में पेड़ की कमी होने से जंगली जानवर बस्तियों में नज़र आ रहे है क्या वन विभाग जंगल पर वन विभाग ध्यान नही दे रहा है ।

कोई जवाब दें