फेसबुक से महिलाओं से करते थे ठगी, दो नाइजीरियन गिरफ्तार

0
186
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

छत्तीसगढ़ के रायपुर में फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर महिलाओं से दोस्ती करके उन्हे झांसे में लेकर ठगने वाले दो नाइजीरियन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. दोनों आरोपी अधेड़ उम्र की शादी शुदा महिला को अपना निशाना बनाते थे. गिरफ्तार आरोपी अब तक 100 से अधिक महिलाओं को अपना शिकार बना चुके हैं. आरोपियों का वीजा तीन माह पहले खत्म हो चुका है.

रायपुर: राजधानी रायपुर पुलिस ने फेसबुक के जरिए महिलाओं को फंसाकर ठगी करने वाले एक अंतरराष्ट्रीय गिरोह के 2 विदेशी नाइजीरियन नागरिकों को दिल्ली से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपियों के पास से 4 मोबाइल फोन और 3 ATM कार्ड भी जब्त किया है. दोनों आरोपी दिल्ली में बिना बीजा के रह रहे थे. फिलहाल पुलिस दोनों के खिलाफ धारा 420, 34 भादवि. 66 डी आई.टी. एक्ट के तहत FIR दर्ज कर जांच कर रही है. साथ ही पुलिस गिरोह से जुड़े अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए भी पूछताछ कर रही है.

पहले भेजा फ्रेंड रिक्वेस्ट

पुलिस के मुताबिक कुछ दिनों पहले प्रार्थिया नामक महिला ने खमतराई थाने में में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसके फेसबुक आईडी में क्लीन्टन मफ्री नामक व्यक्ति का फ्रेंड रिक्वेस्ट आया था. जिसके बाद प्रार्थिया ने उसका फ्रेंड रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर लिया. इस दौरान दोनों के बीच बातचीत होने लगी. एक सप्ताह के बातचीत के बाद नाइजीरियन युवक ने उसका मोबाइल नंबर मांगा तो उसने नंबर दे दिया और दोनों व्हाट्सऐप पर भी एक दूसरे से कनेक्ट हो गए.

खुद को डॉक्टर बताकर फंसाया जाल में 

फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजने वाले शख्स ने प्रार्थिया को बताया कि वह एक डॉक्टर है और उसके चेहरे के सफेद दाग को ठीक करवा सकता है. जब प्रार्थिया ने उससे पूछा की तुम इसे कैसे ठीक करोगे? इसके जवाब में नाइजीरियन ने उससे कहा कि मैं आपको कुछ गिफ्ट पार्सल के जरिए भेजूंगा. इतना सुनकर प्रार्थिया उसके झांसे में आ गई. इसके कुछ दिन बाद प्रार्थिया के फोन पर एक अज्ञात व्यक्ति का फोन आया. फोन करने वाले व्यक्ति ने कहा कि वह दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट से बोल रहा है. आप के नाम का एक पार्सल आया है, इसे कस्टम  क्लीयरेंस चार्ज 36,500  रुपए देकर ले लीजिए.

पैसे ऐंठने के लिए हर बार भेजा अलग-अलग अकाउंट

इसके बाद  प्रार्थिया के पास शख्स ने फिर फोन किया और बोला कि आपको खाता नंबर भेज दिया गया है. जिसके बाद प्रार्थिया ने उक्त खाते में पैसे डाल दिए. इसके कुछ दिन बाद प्रार्थिया को फिर एक कॉल आया. इस बार शख्स ने उसे 95,000 रुपए तत्काल दूसरे खाते में भेजने को कहा, जिस पर प्रार्थिया ने उस खाते में भी पैसे भेज दिया. 95,000 रुपए देने के बाद प्रार्थिया के पास एक और कॉल आया. कॉल करने वाले शख्स ने उसे कहा कि आपको 4 लाख रुपए और देना पड़ेगा. जिसके बाद प्रार्थिया ने खाते में अगल-अलग किश्तों में पैसे डाल दिए.

अकाउंट अपग्रेड करने के ना पर भी ऐंठे पैसे

इसके बाद भी प्रार्थिया के पास इसी तरह कई नंबरों से फोन आया और उसे अलग-अलग अकाउंट में पैसे डालने के लिए कहा गया. जिस पर प्रार्थिया ने 85,000 रुपए और डाल दिए. इसके बाद उक्त शख्स ने बोला कि आपकी मदद के लिए अपने दोस्त को बोलता हूं कि वह आपको पैसा देगा. जिसके बाद क्लीन्टन मफ्री ने प्रार्थिया को फोन कर बोला कि उसके अकाउंट में  30,000 पौंड भेज दिए गए हैं. लेकिन इसके लिए आपको अकाउंट नंबर अपग्रेड कराना होगा. जिसका चार्ज 1,88,300 रुपए लगेगा. इस पर प्रार्थिया ने फिर रुपए डाल दिए.

जबतक प्रार्थिया को समझ में आता तब तक बहुत देर हो चुकी थी

इसके बाद प्रार्थिया से शख्स ने फिर पैसा मांगा. जिसके बाद प्रार्थिया को समझ आ गया कि वह ठगी जा रही है. इस पर प्रार्थिया ने राजधानी रायपुर पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज करा दी. जिसके बाद रायपुर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की दोनों आरोपियों को लोकेशन दिल्ली में मिली और पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया

 

कोई जवाब दें