फेसबुक पर नफरत फैलाने वाला कंटेंट ! जांच करेगी संसदीय समिति

0
746
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

 

नई दिल्ली संसद की एक समिति फेसबुक के खिलाफ नफरत फैलाने वाले कंटेंट नहीं हटाने के आरोपों की जांच करेगी। लोकप्रिय सोशल मीडिया साइट फेसबुक पर आरोप लग रहे हैं कि उसने बीजेपी विधायक द्वारा पोस्ट गए नफरत फैलाने वाले कंटेंट को अपने प्लेटफॉर्म से नहीं हटाया।

फेसबुक पर अपना काम निकलवाने के लिए बीजेपी सरकार का पक्ष लेने का भी आरोप लगाया जा रहा है। केरल से कांग्रेस के सांसद और पार्लियामेंट्री स्टैंडिंग कमेटी ऑन इनफॉर्मेशन टेक्नॉलजी के चेयरमैन शशि थरूर ने ट्वीट किया, ‘मैं इसमें उठाए गए मुद्दों को देखूंगा और निश्चित रूप से जिनका नाम आया है, उनसे जवाब मागूंगा।’

वॉल स्ट्रीट जर्नल ने शनिवार को रिपोर्ट दी थी कि फेसबुक में बीजेपी विधायक राजा सिंह के पोस्ट मौजूद थे जो फेसबुक की कम्युनिटी रूल्स के खिलाफ हैं। इस रिपोर्ट पब्लिश होने के बाद फेसबुक ने राजा सिंह के पोस्ट को हटा दिया। फेसबुक का तर्क फेसबुक का कहना है कि दुनियाभर में उसके प्लेटफॉर्म पर हेट स्पीच पर पाबंदी है।

कंपनी के प्रवक्ता ने एक ईमेल में कहा, ‘हमारे प्लेटफॉर्म पर हेट स्पीच और नफरत फैलाने वाले कंटेंट पर रोक है। हम किसी राजनीतिक विचारधारा या किसी पक्ष के साथ नहीं हैं। ऐसी चीजों पर लगाम लगाने के लिए हम लगातार अपनी व्यवस्था में सुधार ला रहे हैं।’

कांग्रेस के एक अन्य नेता जयराम रमेश ने फेसबुक को झूठ फैलाने वाला सबसे बड़ा साधन बताया और कहा कि यह सामाजिक सौहार्द और तर्कसंगत बहस के लिए सबसे बड़ा खतरा है। उन्होने कहा कि फेसबुक की हरकतों की जांच के लिए संसद को जांच समिति गठित करनी चाहिए।

कोई जवाब दें