फर्जी दस्तावेज बनाने वाले गिरोह का नेशनल लेबल का रेस्लर मास्टरमाइंड गिरफ्तार

0
59
Spread the love

जबलपुर के केंट क्षेत्र में पुलिस ने दुराचार की शिकायत के बाद एक व्यक्ति को दुराचार में सहयोग के आरोप में पकड़ा. लेकिन पूछताछ में वह फर्जी दस्तावेज बनाने वाले गिरोह का मास्टरमाइंड निकला. आरोपी नेशनल लेबल का रेस्लर रह चुका है. मोहम्मद शरीफ नाम के इस पहलवान के साथ पुलिस ने एक अन्य युवक अतुल को भी गिरफ्तार किया है.

दोनों के कब्जे से कम्प्यूटर, नकली सील, फर्जी दस्तावेज और मार्कशीट्स मिले हैं. अब इन युवकों से पूछताछ की जा रही है कि इन्होंने किस-किस नौकरी के लिए कितने लोगों को फर्जी दस्तावेज बनाए हैं. साथ ही पुलिस ऐसे फर्जी दस्तावेजों के आधार पर नौकरी पाने वालों की भी गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है. बहरहाल इस खुलासे के बाद से कई विभागों में हड़कंप मच गया है.

एएसपी दीपक शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि 18 अप्रैल को एक युवती ने थाने में तालिब नामक युवक के खिलाफ कोल्ड ड्रिंक में नशा मिलाकर पिलाने और फिर दुराचार करने की शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस ने जब मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि केंट क्षेत्र में रहने वाले मोहम्मद शरीफ के घर पर तालिब ने वारदात को अंजाम दिया था. इसके बाद पुलिस ने वहां रहने वाले शरीफ को हिरासत में लिया और उसके घर की तलाशी ली. मौके से पुलिस को फर्जी दस्तावेज मिले.

कड़ी पूछताछ में शरीफ ने बताया कि वह अतुल नामक युवक के साथ मिलकर फर्जी दस्तावेज बनाने का काम करता है.नौकरी पाने वाले युवकों के लिए उन्होंने कई दस्तावेज तैयार किए हैं। इसके बाद पुलिस ने अतुल के घर पर छापा मारा और वहां से कम्प्यूटर और अन्य सामग्रियां जब्त कीं.

कोई जवाब दें