पेट्रोल के दाम बढ़े नहीं, बल्कि काफ़ी घट गए, 100 रुपए प्रति लीटर हो जाने चाहिए : प्रधानमंत्री मोदी

0
254
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

डीजल-पेट्रोल की बढ़ती कीमत के कारण आम लोग त्रस्त हैं. इसे देखते हुए पीएम मोदी ने अपने मन की बात कार्यक्रम में लोगों को बताया कि आखिर क्यों डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ते जा रहे है. ‘मन की बात’ से मन मोह लेने वाले हमारे ओजस्वी प्रधानमंत्री मोदी जी इस बार भी मन को मोह लिया.

मन की बात में मोदी ने कहा कि पेट्रोल के दाम बढ़े नहीं, बल्कि काफ़ी घट गए हैं. अब तक तो पेट्रोल के दाम 100 रुपए प्रति लीटर हो जाने चाहिए. मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार देशहित में पेट्रोल और डीज़ल की क़ीमतें समय-समय पर बढ़ाती रहती है लेकिन फिर भी वो इन क़ीमतों को उतना नहीं बढ़ा पा रही है, जितना बढ़ाना चाहती है.

‘मन की बात’ में राष्ट्र के नाम संबोधन में मोदी जी ने कहा, “मेरे प्यारे देशवासियों! हम सबको मिलकर इस देश को महान बनाना है और पेट्रोल-डीजल को महंगा किये बिना ये काम हो सकता है क्या? जब मेरे देश के लोग सौ रुपये लीटर से सस्ता तेल खरीदते हैं तो मेरा सर शर्म से झुक जाता है. क्या हम इतने ग़रीब है?

मैं आप लोगों से पूछता हूं, क्या हम पाकिस्तान से भी ग़रीब है?” महंगा तेल खरीदते ही हमारे अंदर एक रईसी का भाव जागृत हो जाता है. हम जब महंगे पट्रोल खरीदते है तो दूसरे देशों में ये संदेश जाता है कि भारत के लोग महंगे पेट्रोल फूंकने में दिलेर हैं. पेट्रोल डीजल महंगा होगा तो सब कुछ महंगा होगा. बसों और टैक्सियों का किराया बढ़ेगा. तभी हम अमीर देशों में गिने जाएंगे.

मित्रों अगर पॉजिटिव होकर सोचा जाये तो फैसला एक लाभ अनेक है. पेट्रोल की कीमत बढ़ेगी तो देश की जीडीपी बढ़ेगी, किसानों की हालत सुधरेगी, उन्हें आत्महत्या से बचाने के लिए ये सराहनीय प्रयास है. महंगा पेट्रोल देख कर लोग अपने बेटे की शादी में दहेज में गाड़ी भी नहीं मांगेंगे.

क्योंकि पेट्रोल की कीमत देख उनकी रूह कांप जायेगी. लोग गाड़ियां कम खरीदेंगे परिणाम स्वरुप सड़कों पर गाड़ियां और नहीं बढ़ेंगी. जिससे ट्रैफिक जाम की समस्या से छुटकारा मिल सकेगा. यही नहीं इससे वायू प्रदूषण से भी निजात मिलेगी. पेट्रोल महंगा होगा तो हम साइकिल से चलेंगे जिससे हम फिट भी रहेंगे. इसीलिए हमने फिटनेस चैलेंज भी चलाया है.

मित्रों, इन लाभ को देखते हुए हम रोज पेट्रोल के दाम बढ़ा रहे है. लेकिन विपक्ष के कारण हम उतना क़ीमत नहीं बढ़ा पा रहे हैं, जितना हम बढ़ाना चाहते हैं. जिसे सस्ता पेट्रोल चाहिए वो पाकिस्तान चले जाएं. मित्रों, विपक्ष पेट्रोल की कीमत कम करवा के इसे पाकिस्तान बनाना चाहती है. हम विपक्ष की इस मंशा को सदन में नहीं चलने देंगे.

कोई जवाब दें