पीएम को मारने की साजिश! फर्जी IPS बन तोड़ दिया सुरक्षा घेरा, गिरफ्तार

0
247
Spread the love

 

गुरु गोविंद सिंह की 350वीं जयंती पर गुरुवार को पटना पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में एक बड़ी चूक सामने आई। दरअसल पीएम मोदी की सुरक्षा में लगी बिहार पुलिस फोर्स में एक व्‍यक्‍ति फर्जी आईपीएस बन पुलिस को लगभग बीस मिनट तक आदेश देता रहा।

इस दौरान पीएम का काफिला आने ही वाला था, वक्‍त रहते अगर पुलिस अधिकारियों की इसपर नजर न पड़ी होती तो शायद ये किसी बड़ी वारदात को अंजाम दे सकता था। पुलिस ने इस फर्जी आईपीएस अधिकारी को गिरफ्तार कर लिया है।

 

 
  

गिरफ्तार किया गया व्यक्ति पीएम मोदी के दौरे के बीच ही आईपीएस अधिकारी की वर्दी पहनकर पुलिसवालों को निर्देश दे रहा था। पुलिस के अनुसार उसे 15-20 मिनट बाद ही इस व्यक्ति पर संदेह हो गया और उसे गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्टे में दावा किया गया है कि गिरफ्तार व्यक्ति दो दिनों से पटना के सचिवालय चौराहे पर सुरक्षाकर्मियों को निर्देश दे रहा था।

 

इसे भी पढ़ें : –  फैशन के नशे में सना खान ने साड़ी के अंदर नहीं पहना कुछ और फिर ..

इसे भी पढ़ें : –  ये बातें सुनकर महिलाये हो जाती है सम्भोग के लिए और भी बैचैन

इस मामले में एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि पुलिस गिरफ्तार किए गए व्यक्ति से पूछताछ कर रही है। उनका कहना है कि पीएम की यात्रा से पहले पटना की सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह चाक चौबंद थी। पीएम मोदी ने पटना के गांधी मैदान में पने अस्थायी गुरुद्वारा में सिख गुरु को मत्था टेका। पीएम मोदी ने इस मौके पर गुरु गोविंद सिंह की याद में डाक टिकट भी जारी किया और वहां आयोजित लंगर में भी हिस्सा लिया।

इसे भी पढ़ें : –  MA पास इस करोड़पति लड़की ने कर ली अनपढ़ फेरी वाले से शादी, जानिए क्यों?

इसे भी पढ़ें : –  हम ऐसे करते थे लड़कियों के देह का सौदा

मालूम हो कि पिछले हफ्ते मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि पीएम मोदी की पटना यात्रा के मद्देनजर खुफिया एजेंसियों ने पटना को हाई अलर्ट पर रखा है। सुरक्षा एजेंसियों को आशंका थी कि पीएम मोदी की रैली में खालिस्तानी आतंकवादी को वारदात करने की कोशिश कर सकते हैं। रिपोर्ट के अनुसार केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों ने बिहार पुलिस को कुछ संदिग्धों की तस्वीर भी भेजी थी।

इसे भी पढ़ें : –  राजनीतिक नोटबंदी का राजनीतिक आशय आर्थिक तबाही का नरसंहार!

कोई जवाब दें