नकली नोट गिरोह की मास्टर माइंड नकली सब इंस्पेक्टर खूबसूरत हसीना बुलबुल गिरफ्तार, पुलिस मांगेगी रिमांड खुलेंगे कई राज

0
841
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

  • नागदा मे नकली नोट छापने वाली युवती को मण्डी पुलिस द्वारा न्यायालय मे किया पेश
  • पुलिस मांगेगी रिमांड खुलेंगे ओर भी कई राज
  • मार्केट मे नकली नोट चलाने वाली युवती को किया गिरफ्तार

नागदा जिला उज्जैन. नकली नोट छाप कर बाजार मे चलाने वाली युवती को मुखबिर की सूचना पर नागदा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया । युवती के पास से पुलिस आईडी व पुलिस की वर्दी भी मिली है.

पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही मे 17 मार्च 2020 को पुलिस को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई थी की नकली नोट चलाने वाली युवती की जानकारी मिली है जीस पर पुलिस ने जाच मे पाया की प्रकाश नगर की गली नंबर 4 मे रहने वाली कु.बुलबुल पिता घनश्याम परमार 27 साल को उसके मकान के ऊपर वाले कमरे से दो हजार के नकली नोट जिनकी संख्या दो है नोट संख्या.1FL846224, न. 1FL846224 है दोनो नोट एक ही सीरीज के मिले है।500 रुपय के तीन नोट एक का नंबर 5BW832764 व दो नोट के नंबर एक सामान 3FQ349298 है,

इसे भी पढ़ें :- इंस्पेक्टर की खाकी वर्दी पहनकर यह खूबसूरत हसीना झाड़ती थी रौब, नकली नोट छापने वाले गिरोह की मास्टर माइंड निकली, हुये चौकाने वाले ख़ुलासे

500 रुपय का एक असली नोट जिसका नंबर 5BW832764 है व 200 रुपय के चार नकली नोट 4BU641416, 1BH268387 व दो नोट के नंबर एक सामान 3AV247362 है,100 रुपय के कुल पाच नकली नोट 9BC020512, 5BL632931 व तीन नकली नोट के नंबर एक सामान है जो की 8AG868015 है, 100 रुपय के पुराने तीन नकली नोट के नंबर एक सामान 1FK251579 है। एक सफेद कागज पर ₹200 के नक़ली नोट प्रिंट किए हुए हैं कुल दो नोट जिसमें एक नोट का भाग कटा हुआ है कागज का एक आधा हिस्सा कोरा है दोनो नोट के नंबर 1BH268387, 4BU641416 है जो की कुल 7100 रुपय नकली नोट तथा एक कलर प्रिंटर एच पी इंक टैंक 319 सिरियल नंबर CN93J5G33H का मिला है ।

इसे भी पढ़ें :- ज्योतिरादित्य सिंधिया के विरुद्ध लामबंद हुई प्रदेश की जांच एजेंसी ईओडब्ल्यू, जमीन घोटाले में प्रभात झा भी कर चुके है सिंधिया की घेराबंदी

वही युवती के पास से फर्जी तरीके से बनाया गया परिचय पत्र जो मध्यप्रदेश पुलिस सब-इंस्पेक्टर का है जो की बुलबुल परमार के नाम का मिला है वही एक और फर्जी परिचय पत्र एफबीआई का बुलबुल परमार के नाम का जाच के दौरान पुलिस को प्राप्त हुवा है। साथ ही नोट को छापने मे प्रयुक्त होने वाला कागज जो की जेके. एक्सल बॉन्ड कम्पनी के 90 कोरे कागज भी मिले है जीस पर नागदा मण्डी पुलिस ने अपराध धारा 489(क),489(ख),489(ग),489(घ),420भादवि के तहत गिरफ्तार कर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया है।

वीडियो : नकली नोट गिरोह की मास्टर माइंड नकली सब इंस्पेक्टर की पूरी कहानी और  सीएसपी मनोज रत्नाकर का कहना क्या है 

पुलिस की पुछताछ

कलर प्रिंटर से 100 ,200 ,500, 2000 के असली नोटों से कलर फोटो कॉपी करके नकली नोट छाप कर नागदा के बाजार में दूध की दुकानो, किराने की दुकानो व कई ठेले वालों जो की सब्जी वालो से सामान खरीदकर बदले में नकली नोट चलाया करती थी। इसी प्रकार उज्जैन व इंदौर में भी नकली नोट चलाये हैं पुलिस की वर्दी नागदा में पाड्लिया रोड से किसी टेलर से सिलवाया है वह वर्दी के ऊपर के स्टार व मध्य प्रदेश पुलिस के बेज उज्जैन से फ्रीगंज से खरीदा था, गूगल पर सर्च करके स्वय का सब इंस्पेक्टर मध्य प्रदेश पुलिस का परिचय पत्र भी बनवाया था तथा एफबीआई का परिचय पत्र 3 साल पहले बनवाया लिया था जून 2019 में एवेंजर मोटरसाइकिल जो MP 09 2659 मोटरसाइकिल खरीद कर मोटरसाइकिल से नकली नोट चलाने के लिए बाजार जाया करती थी। वही घर वालो, रिश्तेदारों एव दोस्तों पर अपनी फर्जी वर्दी को दिखा कर रोब झाड़ती थी। फर्जी पुलिस का आई कार्ड बनवा कर वर्दी में फोटो भी खिंचवा रखा था।

इसे भी पढ़ें :- ई-टेंडर घोटाले में आर्थिक अपराध प्रकोष्ठ (EOW) ने एंट्रस कंपनी के वाइस प्रेसीडेंट को गिरफ्तार किया

जप्त सामग्री

  • 1.नकली नोट कुल 7100 रुपए(2000,500,200,100) 
  • 2. नकली नोट छापने के लिए एक कलर प्रिंटर ,कागज ,कैची, ब्लेड, सेलो टेप
  • 3. उपनिरीक्षक की पुलिस की वर्दी, जूते,बेल्ट, टोपी
  • 4. मध्य प्रदेश पुलिस उप निरीक्षक का फर्जी आईडी कार्ड
  • 5. एफ.बी.आई. के एजेंट का फर्जी आईडी कार्ड
  • 6. एवेंजर मोटरसाइकिल क्रमांक एमपी 09QV 2659 

इसे भी पढ़ें :- भू माफिया अशोक गोयल 75 करोड़ की जमीन की धोखाधड़ी के आरोपी को जेल भेजा, अंचित गोयल फरार

सराहनीय कार्य

थाना प्रभारी श्याम चंद्र शर्मा, उपनिरीक्षक हेमंत सिंह जादौन, उपनिरीक्षक प्रीती कनेश, उपनिरीक्षक आर एस पवार ,आरक्षक सुनील, नीरज ,भेरूलाल, ईश्वर परिहार, गोपाल ,दिनेश गुर्जर ,महिला आरक्षक सर्मिष्ठा शुक्ला एवं पूजा यादव रहे।

घर से मिली एमपी पुलिस के सबइंस्पेक्टर कि वर्दी व नोट निकालने का प्रिंटर, साथ ही दो पहिया पुलिस लिखा वाहन….

गिरफ्तार महिला नागदा के प्रकाश नगर मोहल्ले कि महिला है साथ ही महिला अपने आप को पुलिस वाली बनकर रोब झाड़ना कबूल किया है.

कोई जवाब दें