दलितों का भारत बंद LIVE: हिंसा की चपेट में कई राज्य, मध्यप्रदेश में 4 की मौत

0
193
Spread the love

सुप्रीम कोर्ट द्वारा एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के विरोध में लोग सड़कों पर उतर आए हैं। दलितों और आदिवासियों के उत्पीड़न में सीधे गिरफ्तारी और केस दर्ज कराने पर रोक लगाने के फैसले के खिलाफ दलित संगठनों ने भारत बंद का आह्वाहन किया है। इसका असर बिहार, ओडिशा और पंजाब सहित देश के कई राज्यों में देखने को मिल रहा है। मेरठ में प्रदर्शनकारियों ने एक पुलिस चौकी फूंक दी है। खबर सामने आ रही है कि मेरठ के विधायक के घर पर भी प्रदर्शनकारियों ने हमला किया है। 

अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) अत्याचार रोकथाम कानून के प्रावधानों को कमजोर करने के विरोध में दलित संगठनों ने सोमवार को पूरे देश में प्रदर्शन किया है. इस दौरान मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, बिहार, झारखंड, गुजरात और महाराष्ट्र में तोड़फोड और हिंसा की घटनाएं सामने आई हैं. मध्य प्रदेश के मुरैना और ग्वालियर जिले में चार लोगों की मौत हो गई है. पुलिस महानिरीक्षक (कानून-व्यवस्था) मकरंद देउस्कर ने इसकी पुष्टि की है. वहीं, ग्वालियर में प्रदर्शन के दौरान 19 लोग घायल हुए हैं, जिनमें से दो लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है. इसके बाद प्रशासन ने मुरैना और ग्वालियर में कर्फ्यू लगा दिया है. इसके अलावा सागर जिले में धारा-144 (चार से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी) लगा दिया है.

इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सभी दलों और संगठनों से शांति बनाए रखने और हिंसा न भड़काने की अपील की है. उन्होंने कहा कि सरकार ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में समीक्षा याचिका लगा दी है. वहीं, केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान ने विपक्षी दलों पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, ‘लोगों के प्रदर्शन करने की बात समझ में आती है. लेकिन विपक्षी दल राजनीति क्यों कर रहे हैं? कांग्रेस जैसी पार्टियां, जिन्होंने डॉ बीआर अंबेडकर को भारत रत्न नहीं दिया, अब उनकी अनुयायी होने का दावा कर रही हैं.’ इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भारत बंद का समर्थन किया था. ट्विटर पर उन्होंने लिखा, ‘दलितों को भारतीय समाज के सबसे निचले पायदान पर रखना राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और भाजपा के डीएनए में है. जो इस सोच को चुनौती देता है, उसे हिंसा से दबाते हैं.’

एससी-एसटी एक्ट मध्य प्रदेश में चार की मौत के लिए इमेज परिणाम

20 मार्च को सुप्रीम कोर्ट ने एससी-एसटी एक्ट के तहत शिकायत दर्ज होने के साथ आरोपितों की तुरंत गिरफ्तारी पर रोक लगा दी थी. ऐसे मामले में गिरफ्तारी के लिए आरोपित के सरकारी कर्मचारी होने पर उसके नियोक्ता प्राधिकारी से और सामान्य नागरिक होने पर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से लिखित मंजूरी को अनिवार्य बना दिया था. हालांकि, इस फैसले के बाद न केवल विपक्षी दलों, बल्कि सत्ता पक्ष के सांसदों ने भी दलित उत्पीड़न बढ़ने की आशंका जताई थी और सरकार से समीक्षा याचिका लगाने की मांग की थी.

LIVE UPDATE-

3.00 PM: प्रदर्शनकारियों ने आजमगढ़ में बसों को आग के हवाले कर दिया है। प्रदर्शन लगातार उग्र होता जा रहा है। 

2.27 PM: आईजी लॉ एण्ड ऑर्डर मकरंद दुष्कर ने बताया कि ग्वालियर और मुरैना में कुल 4 लोगों की मौत हुई है। 

2.15 PM: ग्वालियर में 19 लोग घायल हो गए हैं जिसमे 2 की हालत गंभीर है। ग्वालियर में कल सुबह 6 बजे तक के लिए इंटरनेट सेवाओं को रोक दिया गया है। 

2.00 PM: मेरठ में हिंसा बढ़ती जा रही है, पुलिस चौकी फूंकने के बाद प्रदर्शनकारियों ने विधायक के प्रतिनिधि के घर पर भी हमला किया है। 

1.40 PM: मेरठ में प्रदर्शनकारियों ने एक पुलिस चौकी फूंक दी है। भारत बंद का यह प्रदर्शन लगातार हिंसक होता जा रहा है। 

1.20 PM: दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता दीपेंद्र पाठक ने कहा कि दिल्ली पुलिस पूरी तरह अलर्ट है। हमने कई जगहों पर भारी संख्या में पुलिस की तैनाती की है। कानून का पालन करने के लिए जो भी संभव होगा, उसे हम करेंगे। 

12.41 PM: केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि अगर कोई प्रदर्शन करता है तो यह समझ में आता है लेकिन विपक्ष इस मामले में राजनीति क्यों खेल रहा है। कांग्रेस ने सत्ता में रहते हुए बीआर आंबेडकर को भारत रत्न नहीं दिया और अब इस तरह व्यवहार कर रही है जैसे उनकी समर्थक हो। 

12.40 PM: गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने सुप्रीम कोर्ट में समीक्षा याचिका दायर की है। उन्होंने सभी राजनीतिक पार्टियों से अपील करते हुए कहा कि वह शांति बनाए रखें और हिंसा को न भड़कने दें। 

संबंधित इमेज

12.38 PM: उत्तराखंड के देहरादून में प्रदर्शनकारियों द्वारा जबरदस्ती दुकानों को बंद कराया जा रहा है। 

12.26 PM: मध्य प्रदेश के मुरैना में हिंसक प्रदर्शन के दौरान एक शख्स की मौत हो गई। इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है। 

12.00 PM: जयपुर में प्रदर्शनकारियों के पथराव से दुकानें क्षतिग्रस्त 

11. 55 AM: मध्य प्रदेश के भिंड में हिंसक प्रदर्शन के बाद धारा 144 लागू

11.50 AM: मध्य प्रदेश के मुरैना में आगजनी, रेलवे ट्रैक किया जाम

11.45 AM: जयपुर में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने रोकी ट्रेन

11.35 AM: रांची में प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प, वीडियो आया सामने 

11.20 AM: आगरा समेत ब्रज में लोग सड़कों पर उतर आए हैं। प्रदर्शन हिंसक हो गया है। शहर में जगह-जगह रोड जाम कर दिया गया है। पुलिस ने हवाई फायरिंग की।

11.15 AM: प्रदर्शनकारियों ने मेरठ के शोभापुर पुलिस चौकी को किया आग के हवाले, जगह-जगह चक्का जाम

11.10 AM: राजस्थान के बाड़मेर में हिंसक प्रदर्शन की तस्वीरें

11.05 AM: मेरठ में प्रदर्शन हुआ हिंसक, प्रदर्शनकारियों ने कार पर किया हमला

11.00 AM: दिल्ली में दलित संगठनों ने किया प्रदर्शन, मंडी हाउस में जुटे हजारों प्रदर्शनकारी

10.56 AM : मेरठ में प्रदर्शनकारियों ने कई गाड़ियों में तोड़फोड़ की। पंजाब के पटियाला में भी बंद का व्यापक असर देखा जा रहा है।

10.15 AM: राजस्थान के बाड़मेर में हिंसक विरोध प्रदर्शन की खबर है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक करणी सेना और दलित संगठनों के बीच पथराव हो गया जिसमें 25 लोग घायल हो गए।

9.53 AM: राजस्थान के भारतपुर में बच्चे और महिलाएं सड़कों पर लाठी-डंडों के साथ प्रदर्शन करने के लिए उतरे, नाराज महिलाओं ने ट्रेन भी रोकी।

9.35 AM: उत्तर प्रदेश के आगरा में भी प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरे, सड़क की जाम

9.27 AM:  बिहार के जहानाबाद में भी बंद समर्थकों ने एनएच-83 और एनएच-110 को जाम कर दिया साथ ही बंद समर्थकों ने पटना गया रेल खंड पर पैसेंजर ट्रेन को भी रोक दिया है।

8.19 AM: बिहार: विभिन्न दलित संगठनों ने एससी एसटी एक्ट में बदलाव को लेकर प्रदर्शन किया, बिहार के आरा में ट्रेन रोकी गई। साथ ही सुपौल, दरभंगा, मोतिहारी और अररिया में भी प्रदर्शन की खबर है।

8.10 AM: निश्चित तौर पर एससी-एक्ट प्रोटेक्शन एक्ट के खिलाफ पुर्नविचार याचिका दायर करनी चाहिए- अभिषेक मनु सिंघवी, राज्यसभा सांसद, कांग्रेस

8.05 AM पंजाब: भारत बंद के तहत सोमवार को 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं। किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए CBSE ने परिक्षाएं रद्द कर दी हैं। अमृतसर में एतिहातन दुकाने बंद दिखाई दी।

6.00 AM ओडिशा: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ ओडिशा के संबलपुर में  प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोकी

कोई जवाब दें