ताप्ती वार्ड में लोगों के घरों में अब नहीं घुसेगा पानी, नगर पालिका द्वारा बनवाई जा रही नाले की दीवार

0
148
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 

 

मुलताई। नगर के ताप्ती वार्ड में हनुमान मंदिर के पास बारिश होने पर लोगों के घरों में पानी घुस जाता है। लगभग तीन दर्जन से ज्यादा मकान मालिक इस समस्या से खासे परेशान है। पिछले तीन सालों से उनकी इस समस्या का हल नहीं हो पा रहा था।

उक्त मामले को प्रमुखता से प्रकाशित करने के बाद सीएमओ राहुल शर्मा द्वारा इंजीनियरों की टीम ले जाकर उक्त समस्या के स्थाई समाधान के लिए पिछले दिनों निरीक्षण किया गया था। जिसके बाद नगर पालिका द्वारा नाले के छोर से एक दीवार का निर्माण करवाया जा रहा है, वहीं एक छोटी नाली बनाकर उसे नाले से जोड़ा जा रहा है, जिससे बारिश का पानी सीधे छोटे तालाब में पहुंचेगा और लोगों को उक्त समस्या से निजात मिल जाएगी।

बारिश शुरू होने के बाद से दो बार ताप्ती वार्ड में हनुमान मंदिर की गली के रहवासी घर में पानी घुसने की समस्या से परेशान है। हालात यह है कि एक बार तो पूरी रातजगा कर लोगों ने घरों में से बारिश का पानी बाहर उलीचा, लेकिन इसके बाद भी घर में पानी घुसता ही रहा। इस वार्ड के इस हिस्से की बसावट ऐसी है कि बारिश होने पर सड़के जलमग्र हो जाती है और लोगों के घरों में पानी घुसने लगता है। दरअसल इस क्षेत्र में नाली बनाने की जगह नहीं है, लोगों ने जगह छेाडे बिना मकानों का निर्माण कर लिया है, जिससे उक्त समस्या पैदा हो गई है।

तीन साल पहले तक कुछ प्लाट खाली थे, जिसमें से बारिश का पानी चला जाता था, लेकिन अब घनी बसाहट होने के कारण बारिश और निस्तारी का पानी कहीं भी जाने की जगह नहीं है। जिससे इस क्षेत्र में हमेशा गंदगी तो बनी ही रहती है, लोगों के घरों में बारिश का पानी भी घुस जाता है। उक्त समस्या को पिछले दिनें प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था। खबर प्रकाशन के बाद नगर पालिका के सीएमओ राहुल शर्मा ने इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए मौके का निरीक्षण किया था।

उनके साथ एई आरसी गव्हाड़े, सबइंजीनियर यादव, राठौर सहित धुर्वे आदि भी मौके पर पहुंचे थे। जिसके बाद इस समस्या का हल निकाला गया था कि नाले के एक छोर से एक दीवार बनाई जाए, हनुमान मंदिर वाली गली से एक नाली बनाकर उसे नाले से जोड़ा जाए, जिससे बारिश का पानी नाले के माध्यम से सीधे छोटे तालाब की ओर चला जाए। जिसके चलते उक्त नाले पर निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया है। उक्त काम होने के बाद क्षेत्रवासियों को उक्त समस्या से निजात मिल जाएगी।

नाले का गहरीकरण भी है आवश्यक

इस नाले का गहरीकरण करवाना भी आवश्यक है, समय के साथ नाले में मिट्टी भरा गई है। एक बार इसका गहरीकरण कर दिया जाएगा तो तेज बारिश होने पर नाला ओवर-फ्लो नहीं होगा। स्थानीय लोगों के अनुसार बारिश शुरू होते ही उन्हें इस बात का डर सताता है कि उनके घर में गंदा पानी घुस जाएगा। इसके पूर्व कई बार इस समस्या को लेकर नपा में ज्ञापन भी सौंपा गया है, लेकिन इस बार सीएमओ राहुल शर्मा ने इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए इसके हल के लिए प्रयास किए हैं।

नाले पर लोग कर रहे लगातार अतिक्रमण

इधर इस नाले पर कुछ लोगों द्वारा लगातार अतिक्रमण किया जा रहा है, हालाता है कि यह कि 20 फीट चौड़ा यह नाला, कहीं-कहीं गायब हो गया है और कहीं-कहीं पांच फीट का बचा है। इसके पूर्व भी कई बार वार्डवासियों द्वारा नाले पर किए गए अतिक्रमण को हटाने एवं सीमाकंन की मांग की जा चुकी है, लेकिन इसके बाद भी राजस्व विभाग द्वारा इस नाले का सीमांकन नहीं किया गया है। कुछ लोगों द्वारा नाले पर स्थाई अतिक्रमण कर लिया गया है, वहीं कुछ लोग अस्थाई अतिक्रमण कर नाले की जमीन हड़प रहे हैं।

काम शुरू होते ही हुआ जमकर विवाद

जैसे ही नगर पालिका द्वारा इस नाले के छोर से दीवार बनाने का काम शुरू किया गया, वार्ड के कुछ लोगों द्वारा दीवार नाले के अंदर से बनाने की बात को लेकर विवाद कर लिया। जो लोग इस दीवार का विरोध कर रहे हैं, उनका कहना है कि दीवार बनने के बाद उनकी कार नहीं मुड पाएगी, इसलिए दीवार नाले के अंदर से बनना चाहिए, जबकि अन्य वार्डवासी नाले के छोर से दीवार बनाने की मांग कर रहे हैं। सीएमओ ने बताया कि दीवार नाले के छोर से बनाई जाएगी।

इनका कहना

हमारा प्रयास है कि लोगों के घरों में पानी ना घुसे, इसलिए हमारे द्वारा नाले के छोर से दीवार बनवाई जा रही है। जल्द ही उक्त काम पूरा होगा। राहुल शर्मा सीएमओ मुलताई।

कोई जवाब दें