ढीमरखेड़ा, उमरियापान स्वास्थ्य केंद्र में कोरोना पाज़िटिव इलाज के लिए, छात्रावासों को बनाया जा रहा सेंटर

0
1218
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ ढीमरखेड़ा, जिला कटनी // रमेश कुमार पांडे : 6264045369

कटनी जिला. ढीमरखेड़ा तहसील क्षेत्र में समुदायिक स्वास्थ केन्द्र उमरियापान, उपस्वास्थ्य केंद्र ढीमरखेड़ा में है। मारीजों के इलाज के लिए डाक्टरों की बहुत कमी है।

दोनों स्वास्थ केन्द्रों में कम से कम 16 डाक्टरों का होना अनिवार्य है किन्तु दो डाक्टर ही है इसके बावजूद स्टाप नर्सों के साथ डॉ बी.एम.ओ. राजेश केवट की मेहनत लगन के कारण मरीजों के इलाज में जो भी सुविधा बन सकती है देने में कमी नहीं की जाती है। वर्तमान में देश कोरोनावायरस से जूझ रहा हैं।

उमरियापान, ढीमरखेड़ा क्षेत्र में पाये जाने वाले कोरोना पाज़िटिव को जिला अस्पताल कटनी 60 किलोमीटर की दूरी तय करना पड़ता है इसको ध्यान में रखते हुए क्षेत्र के छात्रावास को कोविड-19 सेंटर बनाए जाने का निर्णय लिया गया है एवं इस महामारी का इलाज इसी क्षेत्र में किया जा सके।
बी.एम.ओ.राजेश केवट ने कहा कि कटनी जिले में एक ही गाड़ी यदि जिले में कोरोना पाज़िटिव दस से पंद्रह निकलते हैं तो मरीजों को जिला अस्पताल पहुंचाने में असुविधा होती है।

वीडियो ख़बर : लिंक पर क्लिक करके पढ़ें पूरी खबर …

वीडियो पर क्लिक करके देखें पूरी वीडियो ख़बर …

इन्ही कारणों से सीएमओ के दिशा-निर्देशों से समुदायिक स्वास्थ केन्द्र उमरियापान,उपसमुदायिक स्वास्थ केंद्र ढीमरखेड़ा में कोरोना पाज़िटिव पाये जाने वाले मरीजों को क्षेत्रीय छात्रावासों को कोविड -19 सेंटर बनाकर यही इलाज किया जा सके। कोरोनावायरस के कारण शासन प्रशासन के आदेश से वर्तमान स्थिति में छात्रावास बंद है।

उमरियापान अस्पताल एवं ढीमरखेड़ा अस्पताल में डॉक्टरों की कमी है। ढीमरखेड़ा तहसील क्षेत्र में कोरोनावायरस कि चपेट में दस मरीजों की संख्या है जो बाहर से आते हैं। मरीजों के लिए उमरियापान में 28 बैंड, ढीमरखेड़ा में 60 बैंड की सुविधा उपलब्ध की जा रही है।

कोई जवाब दें