जिले की पुरातात्विक महत्व की धरोहरों को सहेजा जायेगा जिला पुरातत्व संघ की बैठक सम्पन्न

0
58
Spread the love

नरसिंहपुर, 10 फरवरी 2017. जिला पुरातत्व संघ की बैठक कलेक्टर डॉ. आरआर भोंसले की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट नरसिंह भवन के सभाकक्ष में सम्पन्न हुई। बैठक में जिले की पुरातात्विक महत्व की धरोहरों को सहेजने एवं संरक्षित रखने पर बल दिया गया। बैठक में डिप्टी कलेक्टर वंदना जाट, उप संचालक पुरातत्व जबलपुर केएल डाभी, प्रोफेसर डॉ. केएल साहू, जिला शिक्षा अधिकारी जेके मेहर, सुनील कोठारी, चंद्रशेखर साहू, कालूराम पटैल खोजी बाबा, लाल साहब जाट, डॉ. अनंत साव, राजा कौशलेन्द्र जूदेव, शिक्षक संतोष कुमार कौरव और समिति के अन्य सदस्य एवं अधिकारी मौजूद थे।

बैठक में कलेक्टर ने जिला मुख्यालय पर जनपद मैदान स्थित शांति स्मारक (पीस मेमोरियल) का निरीक्षण कर सीमांकन करने और इसका कब्जा पुरातत्व विभाग को सौंपे जाने के निर्देश दिये। इस संबंध में प्रस्ताव तैयार करने के लिए निर्देशित किया गया। जिले की पुरातात्विक महत्व की धरोहरों/ सामग्री को सहेजकर संग्रहालय (म्युजियम) में संरक्षित करने पर जोर दिया गया। इसके लिए उप संचालक पुरातत्व जबलपुर, तहसीलदार, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग, अधीक्षक भू- अभिलेख, राजस्व निरीक्षक नजूल, सहायक यंत्री नगर पालिका नरसिंहपुर को संयुक्त रूप से निरीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिये गये। नरसिंह मंदिर का निरीक्षण कर सीमांकन करने और उसके आसपास के अतिक्रमण को हटाने के निर्देश तहसीलदार को दिये गये, ताकि मंदिर की बाउंड्रीवाल का कार्य कराया जा सके। नरसिंह मंदिर के तालाब के सौंदर्यीकरण के संबंध में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिये गये।

पुरातत्व एवं पर्यटन की दृष्टि से जिले के पुरातात्विक महत्व के स्थानों और पर्यटन स्थलों की जानकारी एकत्रित कर एक पत्रिका का प्रकाशन कराने के निर्देश कलेक्टर ने दिये। इसके लिए 7 सदस्यीय समिति का गठन किया गया। सदस्यों को वांछित जानकारी एकत्रित कर पत्रिका प्रकाशित कराने के लिए कहा गया।

जिला स्तर पर गठित पुरातत्व समिति द्वारा निर्णय लिया गया कि जिले में ऐतिहासिक महत्व की धरोहरों का निरीक्षण करने के लिए गठित दल जिले में भ्रमण कर जानकारी एकत्रित करें। इसके लिए रूट चार्ट तैयार किया जावे। तत्संबंध में समिति जानकारी एकत्रित कर कार्यालय में प्रस्तुत करेगी।
समिति के सदस्यों ने बैठक में अपने- अपने सुझाव दिये। इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

कोई जवाब दें