जनसुनवाई में कलेक्टर द्वारा आवेदकों की समस्याओं का निराकरण जनसुनवाई में 62 आवेदन प्राप्त

0
154
Spread the love

01-_Jan_Sunwai_Narsinghpur.JPG दिखाया जा रहा है

TOC NEWS

नरसिंहपुर, 17 मई 2017. कलेक्ट्रेट में मंगलवार को जनसुनवाई में जिले के विभिन्न क्षेत्रों से पहुंचे आवेदकों ने अपनी मांगों, शिकायतों, समस्याओं से संबंधित आवेदन कलेक्टर डॉ. आरआर भोंसले के समक्ष प्रस्तुत किये।

कलेक्टर ने आवेदकों की समस्याओं को संजीदगी से सुना और विभिन्न प्रकरणों में समस्याओं का मौके पर ही निराकरण किया। जनसुनवाई में लोगों से प्राप्त आवेदनों पर कलेक्टर ने संबंधित अधिकारियों को तत्परता से समय सीमा में कार्रवाई सुनिश्चित कर अवगत कराने के निर्देश दिये। मंगलवार 16 मई को सम्पन्न जनसुनवाई में 62 आवेदन प्राप्त हुये। कलेक्टर ने वीडियोकांफ्रेंसिंग और मोबाइल फोन से भी जिला मुख्यालय के बाहर के अधिकारियों को जनसुनवाई के प्रकरणों में आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये।    जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रतिभा पाल और अपर कलेक्टर जे समीर लकरा ने भी आवेदकों की समस्यायें सुनी और शीघ्रता से समय सीमा में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश अधिकारियों को दिये।

इस अवसर पर एसडीएम जीएस धुर्वे व महेश कुमार बमनहा, संयुक्त कलेक्टर जेपी सैयाम, महाप्रबंधक उद्योग पीडी वंशकार, जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा श्वेता जाधव, जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण रेखा पंचाल, मुख्य नगर पालिका अधिकारी नीरज श्रीवास्तव और अन्य अधिकारी मौजूद थे।

02-_Jan_Sunwai_Narsinghpur.JPG दिखाया जा रहा है

जनसुनवाई में बेलखेड़ी- शेढ़ की निवासी नि:शक्त छात्रा अनीता भगवत सिंह प्रजापति ने चलने- फिरने में होने वाली अपनी परेशानी बताई और मोटरयुक्त ट्रायसिकल (स्वचलित गाड़ी) दिलवाने की मांग की। इस मामले में कलेक्टर ने सचिव रेडक्रास के लिए आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये। निमावर के नि:शक्त इंदर ने मकान बनाने के लिए भूमि का पट्टा दिलवाने के लिए आवेदन दिया। इस प्रकरण में कलेक्टर ने वीडियोकांफ्रेंसिंग से तहसीलदार गाडरवारा को पूरा रिकार्ड दिखवाकर आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिये। मगरधा के कृष्ण कुमार उर्फ फूल सिंह पटैल आत्मज अन्नीलाल ने गांव में उत्पात मचाने वाले बंदर को पकड़वाने के लिए सहायता दिलाने के लिए आवेदन दिया। इस मामले में कलेक्टर ने वन मंडलाधिकारी को आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। धुबघट के प्रमोद सिंह ने जमीन से कब्जा हटवाने संबंधी प्रकरण के गुम होने की शिकायत की। इस मामले में कलेक्टर ने तहसीलदार करेली से जानकारी ली और एक सप्ताह में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। साथ ही संबंधित रीडर के विरूद्ध आवश्यक कार्रवाई करने के लिए कहा। गोटेगांव के नेत्र रोग से पीड़ित प्रहलाद ने मदद दिलाने के लिए आवेदन दिया। इस मामले में कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी को नेत्र परीक्षण कराकर आवश्यक इलाज के निर्देश दिये।

जनसुनवाई में अमथनू के दिनेश बैनीप्रसाद तिवारी ने सरपंच- सचिव द्वारा अनियमिता करने, तेंदूखेड़ा के मुकेश कुमार मुन्नालाल ने आईटीआई तेंदूखेड़ा में सफाई कर्मचारी के रूप में नियमित करने, लिंगा के रमेश गुप्ता ने शासकीय भूमि पर अतिक्रमण व रास्ते के विवाद, रमखिरिया के अंतराम ने विकलांग पेंशन दिलाने, खैरूआ- सालीचौका के भगवत जालम अहिरवार ने जंगली सुअर द्वारा हमला कर घायल करने पर अनुदान सहायता दिलाने, भामा के धनराज सिंह ने अतिक्रमण, भमका के तुलसीराम ने शासकीय रास्ता संबंधी अतिक्रमण, बरमानकलां के सज्जन सिंह जमना ने शौचालय की दूसरी किस्त दिलाने, झौतेश्वर के तुलाराम चौधरी ने शौचालय निर्माण में सचिव द्वारा गड़बड़ी करने, संदूक के आशीष शर्मा और कामती- पिठहेरा के बाबूलाल शुक्ला ने शौचालय निर्माण की मजदूरी भुगतान, सूखाखैरी के योगेन्द्र सिंह राजगौड़ ने अपनी पटकुही की जमीन के बदले दूसरी जमीन दिलाने और लकड़ियों का मुआवजा दिलाने, रानी पिपरिया की शांतिबाई ने भूमि पर अवैध कब्जा व परेशान करने, इकलौनी के विपतसिंह ओझा ने लगानी भूमि के वृक्षों को काटने, करेली के मूलचंद बसोर ने सरकारी जमीन पर टपरिया बनाकर अतिक्रमण करने, भटेरा के बलिराम रामदयाल लोधी ने भूमि संबंधी विवाद व मुआवजा भुगतान आदि से संबंधित अपने- अपने आवेदन प्रस्तुत किये। इन आवेदनों के संबंध में कलेक्टर, सीईओ जिला पंचायत व अपर कलेक्टर ने लोगों की समस्यायें सुनी और संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

कोई जवाब दें