ग्रेसिम समझौता 2019 : जनप्रतिनिधियो द्वारा श्रमिको के हित मे समझौता हो – बसंत मालपानी

0
236
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा, ग्रेसिम उद्योग के श्रमिकों के समझौते को लेकर सभी जनप्रतिनिधियो द्वारा श्रमिको के हित मे समझौता हो इस विषय पर युवा नेता बसंत मालपानी काफ़ी समय से प्रयासरत है श्री मालपानी से जब टीओसीन्यूज़डॉटओआरजी ने समझौते को लेकर चर्चा की तो मालपानी ने कहा की 28 दिसम्बर 2018 को हमारे द्वारा पहला बयान जारी किया गया की ग्रेसिम  समझौता  2019 बेहतर हो।

इसे भी पढ़ें :- कार की ठोंकर से तीन युवक घायल, सारंगढ राइनो ने आहतों को अस्पताल पहुंचाया

5 जनवरी को हमारे द्वारा मजदूर का मांग पत्र के माध्यम से श्रमिको की राय जानी गई और मांग पत्र को उच्च स्तर पर पहुचाने का वादा किया गया। 1 फरवरी को भोपाल जाकर हमारे द्वारा श्रम मंत्री माननीय महेंद्र सिंह सिसोदिया को मजदूर का मांग पत्र सौंपा और समझौता बेहतर कराने की मांग की गई। फरवरी में पेम्प्लेट वितरित कर मजदूर भाइयों से एकजुटता का आह्वान किया गया।

इसे भी पढ़ें :- ईडब्ल्यूएस के लिए जमीन आबंटन नहीं करने पर 17 कालोनाईजरों पर होगी कठोर कार्यवाही : कलेक्टर

14 जून को ग्रेसिम पावर हाउस गेट पर समझौता जल्द करने एवं माँग पत्र सार्वजनिक करने के लिए हमारे द्वारा 8 घंटे का उपवास कर ज्ञापन सौंपा एवं मजदुर भाइयों से एक दिन के लिये कैंटीन के बहिष्कार का आह्वान किया। 12 जुलाई को पुनः श्रम मंत्री श्री महेंद्र सिंह सिसोदिया से मुलाकात कर समझौते में हो रही देरी से अवगत कराते हुए समझौता जल्द करवाने का निवेदन किया।

इसे भी पढ़ें :- NIOS सामुदायिक स्वास्थ्य ( जन-स्वास्थ्य ) CCH में प्रमाणपत्र पाठ्यक्रम, प्रवेश प्रारम्भ

18 जुलाई को श्रम आयुक्त श्री आशुतोष अवस्थी को इंदौर जाकर समझौता जल्द करवाये जाने हेतु पत्र सौंपा और निवेदन किया की श्रम विभाग समझौते में मध्यस्थता करने की बजाय मजदूरो का पक्ष रखे।

हमारे द्वारा मजदूर हित में चलाए गए इस अभियान में सभी जनप्रतिनिधि अपने स्तर पर समझौता 2019 बेहतर कराने के लिए प्रयासरत है।हम ट्रेड यूनियन नेताओ से निवेदन करना चाहते है की आप भी अपनी जवाबदारी का ईमानदारी पूर्वक निर्वहन करे।

बाईट- बसंत मालपानी सदस्य म प्र कॉंग्रेस

कोई जवाब दें