गेहूँ व्यापारी के गोदाम से हजारों का माल चोरी, कृषि उपज मण्डी समिति के प्रांगण से शातिर चोर दिखा रहा है अपना कमाल

0
68
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा. कृषि उपज मंडी समिति में आए दिन चोरि की घटना हो रही है। व्यापारियों का अनाज गायब हो रहा है जिसकी जानकारी किसी को नही है । आखिर चोरी की वारदात को कौन अंजाम दे रहा है, चोर ने व्यापारियों के नाक में दम कर दिया है। मण्डी के नजदीक पुलिस थाना होने के बावजूद चोरियां रुकने का नाम नही ले रही। लगातार चोरी की वारदात हो रही है। लाखों का माल चोरी हो रहा है जिम्मेदार अधिकारी अपनी जिम्मेदारी से हाथ झटकते नजर आ रहे।

व्यापारियों की मण्डी सचिव से हुई झड़प, बुलाये गये तहसीलदार एवं  थाना प्रभारी

व्यापारी शैलेन्द्र जैन एवं  राजेश गेलड़ा का कुंटलो से गेहूँ चोरी हो गया  जिसकी किसी भी व्यापारी या मंडी समिति के अधिकारी को भनक तक नही है । वही मण्डी सचिव को घटना की खबर होने के बाद भी कोई कारगर कदम नही उठाये गये ।

24 जुन 2020 की रात को गोदाम के ताले चटका कर कुंटलो का माल उड़ा ले गए चोर। जबकि मण्डी में रात के समय चौकीदारों का पहरा रहता है। व्यापारियों को चौकीदार पर शंका है की कही ना कही उसकी संन लिप्तता हो सकती है। इन सभी बातो को ले कर व्यापारियो की मण्डी सचिव से बहस हो गई। जिसे देखते हुवे तहसीलदार विनोद शर्मा एव थाना प्रभारी श्याम चन्द्र शर्मा को बुलाना पड़ा।

प्रांगण में 4 से 6 महीने से सी सी टीवी कैमरे बंद पड़े है व्यवस्थाओं में गड़बड़ है। इन सभी के बाद भी जवाबदार आखों पर पट्टी बांधे बैठे है। व्यापारियों ने परेशान होकर नागदा थाना प्रभारी श्याम चन्द्र शर्मा को आवेदन दे कर बार बार हो रही चोरी की शिकायत करते हुवे कृषि उपज मण्डी पर प्रश्रचिन्ह खड़े किये है।

वीडियो ख़बर  इनका कहना है :-  मंडी सचिव श्री बी.एल.चौधरी (नागदा)

थाना प्रभारी और तहसीलदार ने मामले की गंभीरता को देखते हुए संज्ञान में लेकर घटना स्थल का मौका  मुआयना किया। घटना स्थल पर मंडी सचिव बी.एल.चौधरी के साथ घटना के बारे मे चर्चा कर व्यापारियों ने एक जुट हो कर तहसीलदार व थाना प्रभारी से चोरी की घटना को ले कर गुहार लगाई।

मंडी सचिव की व्यवस्था व चौकीदार की लापरवाही के चलते व्यापारियों ने अपनी भड़ास निकालते हुवे आरोप लगाए है की चार महीने से केमरे बंद है चौकीदार द्वारा शराब का सेवन कर  नींद निकालने जैसी बात का करना। मंडी प्रांगण से चुनींदा व्यपारियों का माल चोरी होना। कही ना कही मण्डी समिति पर प्रश्नचिन्ह खड़े कर रहा है।

सी सी टीवी कैमरे का ठेका 3 लाख 50 हजार रुपय में दिया गया जिसे एक वर्ष भी नही हुआ। पिछ्ले 6 माह से जो  बंद हो कर धूल खा रहे है। लेकिन मंडी सचिव को इस बात का भी ध्यान नही की व्यापारियों का माल मंडी प्रांगण में रहता है जिसकी जिम्मेदारी सचिव की बनती है की कोई बड़ी घटना या शासन का बड़ा नुकसान ना हो जाएगा।

आज की घटना का खामियाजा किसानों को भुगतना । मंडी सचिव और व्यपारियों की तनातनी से किसान हुआ परेशान।

इस पुरी घटना की जानकारी मीडिया द्वारा अनुविभागीय अधिकारी श्री पुरुषतम कुमार को दी गई। उनके आदेश पर मंडी सचिव ने व्यपारियों को निर्देश दिया । किसानों के माल की नीलामी जो 11 बजे होने वाली थी वह 3 बजे हुई । सचिव व व्यापारियों की तनातनी से किसानों को मौसम को देखते हुए खेतों में बुआई करने के लिये भी लौटना था जो विवाद के चलते उपज की नीलामी देरी से शुरु हुई और बारिश चालू हो गई।

जब पूरे मामले पर मीडिया ने संपर्क किया तो मंडी सचिव का जवाब:-

बात सही है की मंडी प्रांगण से व्यापारियों का माल चोरी हो रहा है।लेकिन मेरे द्वारा उन्हें बार बार सतर्क किया गया कि आप सभी मिलकर एक दो चौकीदार की व्यस्था करे। कैमरे भी लगवाए गये किन्तु व्यापारी  सुनते नही है। आज भी जिस व्यपारी के यहां चोरी हुआ है। उसका कुछ दिन पहले ही शटर का ताला बदलने का बोला था लेकिन व्यापारी ने मेरी बात पर ध्यान ना देते हुवे शायद कमजोर 10 रुपए वाला छोटा ताला लगा रखा दिया। जो चोरों द्वारा बड़ी ही आसानी से चटकाया कर माल चोरी कर लिया। चोरी वाली रात को 10 :30 बजे तक व्यापारी अपना माल ट्रक में लोड कर रहा था उसके बाद वाहन गेट के बाहर हो गया उस वक्त भी चौकीदार गेट पर उपस्थित था उसके बाद कब यह घटना हुई यह बड़ा प्रश्रचिन्ह है। खैर पुलिस और हम उस चोर को पकड़ने की कोशिश में जुटे हुवे है।

कोई जवाब दें