कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने से हेटी के तीन ग्रामीण कोरोना पाजेटिव, प्रभात पट्टन के हिवरखेड़ में भी एक ग्रामीण की पाजेटिव रिपोर्ट, एक मरीज डिस्चार्ज

0
293
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ मुलताई, जिला बैतूल 

 

मुलताई। नगर सहित पूरे क्षेत्र में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है तथा बाहर से आए संक्रमित लोग अन्य लोगों को भी संक्रमित कर रहे हैं जिससे स्थिति दिन पर दिन गंभीर होती जा रही है। विगत दिनों ग्राम हेटी में एक कोरोना संक्रमित मरीज के संपर्क में आए परिजनों में से शनिवार तीन की रिपोर्ट कोरोना पाजेटिव आने से गांव में हड़कंप मच गया। 

स्वास्थ्य महकमें द्वारा तीनों पाजेटिव को मुलताई के कोविड सेंटर में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। इस संबन्ध में बीएमओ डा.पल्लव ने बताया कि विगत 20 जुलाई को गुजरात से एक युवक ग्राम हेटी लौटा था जिसका सेंपल लेने के बाद उसकी रिपोर्ट पाजेटिव आने से उसे कोविड सेंटर में भर्ती किया गया था लेकिन इस दौरान युवक अपने परिवार के लगभग 13 लोगों के संपर्क में आ चुका था इसलिए सभी परिजनों का कोरोना सेंपल लिया गया था। शनिवार पाजेटिव युवक के परिजनों में चाचा सहित एक पिता एवं पुत्र की रिपोर्ट पाजेटिव आई है। डा.पल्लव के अनुसार उक्त तीनों कोरोना पाजेटिव मरीजों को कोविड सेंटर भेजकर उपचार प्रारंभ किया गया है।

प्रभात पट्टन के हिवरखेड़ भी कोरोना पाजेटिव

मुलताई क्षेत्र में जहां एक ही दिन में तीन कोरोना पाजेटिव मरीज मिले हैं वहींं प्रभात पट्टन ब्लाक के ग्राम हिवरखेड़ में भी एक कोरोना संक्रमित मरीज मिला है जिसे प्रभात पट्टन में बनाए गए कोविड सेंटर में भर्ती किया गया है। बताया जा रहा है कि 23 वर्षीय युवक इंदौर से हिवरखेड़ गांव आया था जिसका सेंपल विगत 29 जुलाई को जांच के लिए लिया गया था जिसके बाद उसकी शनिवार रिपोर्ट कोरोना पाजेटिव आई है। बताया जा रहा है कि उक्त युवक के साथ एक अन्य युवक भी आया था जिसका भी सेंपल प्रभात पट्टन स्वास्थ्य अमले द्वारा लिया जा रहा है।

कोविड सेंटर से स्वस्थ्य होकर लौटा युवक

इधर मुलताई के कोविड सेंटर से एक युवक स्वस्थ्य होकर लौटा है जिसे स्वास्थ्य अमले द्वारा पुष्पवर्षा कर हम होगें कामयाब गीत के साथ उत्साहवर्धन करते हुए विदा किया। इस दौरान स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा उसे लगभग एक सप्ताह तक घर में क्वारंटाईन की समझाईश देते हुए कहा गया है कि कई बार कोरोना पाजेटिव स्वस्थ्य होकर घर लौटने के बाद भी रिपोर्ट पाजेटिव आई है इसलिए सतर्कता फिर से एैसे मरीजों को कोविड सेंटर में भर्ती करना पड़ता है इसलिए सतर्कता अत्यंत आवश्यक है।

कोई जवाब दें