कोरोना प्रभावित देशों की यात्रा की जानकारी नहीं देने वालों पर जनहित में आईपीसी की धारा के तहत दर्ज होंगे मामले : कलेक्टर यशवंत कुमार

0
265
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 

कलेक्टर एवं एसपी ने ली उद्योग संचालकों की बैठक

रायगढ़, कोरोना वायरस के रोकथाम व बचाव की तैयारियों के मद्देनजर कलेक्टर श्री यशवंत कुमार ने जिले में संचालित समस्त उद्योगों के प्रतिनिधियों की बैठक कलेक्टोरेट सभाकक्ष में ली। पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह तथा अपर कलेक्टर श्री राजेन्द्र कटारा भी बैठक में शामिल रहे।

कलेक्टर श्री यशंवत कुमार ने समस्त उद्योग संचालकों को निर्देशित करते हुए कहा कि हाल के दिनों में उद्योगों में कार्यरत यदि कोई कर्मचारी कोरोना प्रभावित देश की यात्रा से लौटा है तो तत्काल उसकी सूचना कलेक्टोरेट, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय व थाने में दें। जानकारी नहीं देने और कोरोना के केस पाजीटिव मिलने पर ऐसे व्यक्ति व प्रबंधन के ऊपर जनहित में आईपीसी की धारा 269 व 270 के तहत मामला दर्ज कर सख्त कार्यवाही की जाएगी।

उन्होंने उद्योग प्रबंधन को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि उद्योगों में काम करने वाले कर्मचारियों के ट्रेवल हिस्ट्री की पूरी जानकारी रखें तथा संदेहास्पद मामलों को तुरंत प्रशासन के संज्ञान में लाये। उन्होंने आगे कहा कि फैक्ट्रियों एवं प्लांट में 20 से अधिक व्यक्ति एक जगह पर एकत्रित न हो। उद्योग के सभी कर्मचारियों को कोरोना के बारे में पूरी जानकारी देकर जागरूक करें। संक्रमण से रोकथाम के तरीके बताए व उसका पालन करें।

साबून से नियमित हाथ धोने की व्यवस्था करवायें, हाथ मिलाने तथा गले लगने से बचने की सलाह दें। 3 फीट से अधिक दूरी बनायें। किसी कर्मचारी में यदि कोरोना से संबंधित लक्षण दिखाई दे तो तत्काल मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से संपर्क कर टेस्ट व इलाज की व्यवस्था करवायें। उन्होंने आगे कहा कि कोरोना के रोकथाम के लिए सभी को मिलकर गंभीरता से प्रयास करने होंगे तथा शुरूआती चरण में ही बचाव के अधिकतम प्रयास करने होंगे।

पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह ने इस मौके पर कहा कि कोरोना से सबसे बुरा प्रभाव उद्योगों पर पड़ेगा। जिसे जागरूकता फैलाकर व बचाव के तरीके अपनाकर रोका जा सकता है। प्राय: देखा गया है कि उद्योगों में कार्यरत श्रमिक वर्ग स्वास्थ्य व हाइजिन को लेकर जागरूक व सजग नहीं रहते है, उन्हें भी जागरूक करते हुए बचाव के तरीकों को जीवन शैली में अपनाने हेतु प्रेरित करना होगा। इस मौके पर सीएचएमओ डॉ.एस.एन.केशरी ने कोरोना के संबंध में आवश्यक जानकारी प्रदान करते हुए प्रशासन के तैयारियों से उद्योग जगत के प्रतिनिधियों को अवगत कराते हुए सहयोग की अपील की। इस अवसर पर उद्योग तथा खनिज विभाग के अधिकारियों सहित उद्योगों से लगभग 50 प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

कोई जवाब दें