कृषि मंत्री बिसेन खैरी विस्फोट घटना के मृतकों की अंत्येष्टि में शामिल हुए

0
65
Spread the love

TOC NEWS

बालाघाट। किसान-कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री गौरीशंकर बिसेन आज बालाघाट के खैरी विस्फोट घटना के मृतकों के गाँव भरवेली में उनके अंतिम संस्कार में शामिल हुए और पार्थिव शरीर को कांधा दिया। कृषि मंत्री बिसेन ने मृतकों के परिजनों से मुलाकात की और शोक-संवेदना व्यक्त कर उन्हें सांत्वना दी। उन्होंने कहा कि पीडि़त परिवारों को हर-संभव मदद दी जायेगी।

मृतकों की अंत्येष्टि के लिए लकड़ी एवं कंडे का इंतजाम जिला प्रशासन द्वारा करवाया गया था। जिला पंचायत अध्यक्ष रेखा बिसेन ने मृतकों की तेरहवीं का सभी खर्च अपनी ओर से वहन करने का आश्वासन दिया। सांसद बोधसिंह भगत ने कहा कि इस दु:खद दुर्घटना में मृतकों के बच्चे, जिनकी देखरेख करने वाला कोई नहीं बचा है, उनको सम्पन्न लोगों द्वारा गोद लिये जाने की कार्यवाही की जायेगी।

इसे भी पढ़ें :- कुकर्म के दोषी नाबालिग को मिली रौंगटे खड़ी करने वाली सजा, सुन अापका भी मन होगा विचलित

हाल ही में एक ऐसी खोज हुई है जिसने वैज्ञानिकों के दिल को दहला दिया है। ये ऐसी भयानक खोज है जिसे आम इंसान देख लेता तो उसके होश फाख्ता हो जाते।

वैज्ञानिकों ने हाल ही नीदरलैंड में एक 1000 साल पुरानी मूर्ति की खोज की है। मूर्ति की खोज तक तो ठीक है लेकिन इस मूर्ति के अंदर से जो निकला है उसने खोज करने वाले वैज्ञानिकों को डरने के लिए मजबूर कर दिया।

इसे भी पढ़ें :- फातिमा सना शेख ने शेयर की बिकिनी में फोटो, सोशल मीडिया पर लोगों ने बताया ‘बेशर्मी’

कलेक्टर भरत यादव ने बताया कि सभी मृतकों को राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के प्रावधानों के तहत 4-4 लाख रुपये की सहायता राशि दी जायेगी। यदि उनका किसी योजना में बीमा होगा तो उसका क्लेम दिलवाने का भी प्रयास किया जायेगा। सभी मृतकों के परिवारों के राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के प्रकरण भी तैयार किये जायेंगें।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खैरी घटना में मृतकों के परिवार को मुख्यमंत्री स्वैच्छानुदान से 2-2 लाख रुपये की राशि एवं घायलों को 50-50 हजार रुपये देने की घोषणा की है।

इसे भी पढ़ें :- मोदी सरकार के भ्रष्टाचार को खत्म करने के दावों का सच, भारत बना एशिया का सबसे भ्रष्ट देश: रिपोर्ट

कृषि मंत्री श्री बिसेन ने इस घटना में मृतकों की अंत्येष्टि के लिए अपनी ओर से 10-10 हजार रुपये की नगद राशि उपलब्ध करवाई है। जिला रेडक्रास सोसायटी की ओर से सभी मृतकों के परिवारों को 20-20 हजार रुपये एवं घायलों को 5-5 हजार रुपये की सहायता दी गई है। मृतकों के परिवारों को ग्राम पंचायत से 5-5 हजार रुपये की अनुग्रह राशि दी जा रही है।

इसे भी पढ़ें :- मन्दसौर किसानों की हत्या के मामले में दाखिल होगी पीआईएल

अपर कलेक्टर शिव गोविंद मरकाम को घटना की मजिस्ट्रियल जाँच का जिम्मा सौंपा गया है। इस मामले में खैरी की फटाका फैक्ट्री के मालिक के विरूद्ध भादवि की धारा 304 एवं विस्फोटक अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी गई है। पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी ने घटना के बाद फरार फैक्ट्री मालिक की गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है।

जिला प्रशासन ने प्रभावित प्रत्येक परिवार का सामाजिक आर्थिक सर्वे करवाने की तैयारी कर ली है, जिससे पीडि़त परिवारों को शासन की योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ दिलवाया जा सके। पीडि़त परिवारों के बच्चों की शिक्षा एवं अच्छे भविष्य के लिए सामाजिक एवं स्वयंसेवी संस्थाओं की बैठक कर उनकी मदद के लिए कार्य-योजना तैयार करने का प्रयास किया जा रहा है।

कोई जवाब दें