कानपुर के हिस्ट्रीशीटर मास्टर मांइड विकास दुबे को पुलिस एनकाउंटर में मार गिराया, फिर वही कहानी से खड़ा प्रश्न मुठभेड़ में मार गिराया

0
757
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

कानपुर के बिकरू गांव में 2-3 जुलाई की रात सीओ समेत 8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाला विकास दुबे बिकरू एनकाउंटर के आठवें दिन पुलिस एनकाउंटर में ढेर हो गया। कानपुर के एलएलआर अस्पताल के प्रिंसीपल डॉ.आरबी कमल का कहना है कि एनकाउंटर के दौरान घायल हुए तीन पुलिसकर्मियों की हालत स्थित है। इनमें से दो को गोली छूकर गई। वहीं विकास दुबे की छाती में तीन और हाथ में गोली लगी थी।

इसे भी पढ़ें :- कानपुर कांड का मास्टरमाइंड विकास दुबे उज्जैन के महाकाल मंदिर में सरेंडर किया, पुलिस ने किया गिरफ्तार

8 पुलिसकर्मियों की हत्यारे गैंगस्टर विकास दुबे के एनकाउंटर पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। दरअसल पुलिस का कहना है कि उज्जैन से कानपुर लाते वक्त रास्ते में एसटीएफ की गाड़ी पलट गई, जिसमें विकास दुबे मौजूद था इसी दौरान उसने भागने की कोशिश की और पुलिस की कार्रवाई में मारा गया।

अब सवाल ये उठ रहा है कि विकास दुबे के हाथ क्यों नहीं बंधे हुए थे? और जैसा कि गिरफ्तारी से लगा कि विकास दुबे ने खुद को गिरफ्तार कराया है तो फिर ऐसे में विकास ने अब क्यों भागने की कोशिश की? गुरुवार को पुलिस ने विकास के खास गुर्गे प्रभात भी लगभग इसी तरह से एनकाउंटर में मारा गया था। अब विकास दुबे की इसी तरह एनकाउंटर में मौत भी क्या सिर्फ एक संयोग है?

वीडियो ख़बर इनका कहना है :- कानपुर कांड का मास्टर मांइड विकास दुबे का मुठभेड़ में मार गिराया

बता दें कि उज्जैन में विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद जब उसे कानपुर लाया जा रहा था तो उसके साथ मीडिया की भी कई गाड़ियां साथ साथ चल रहीं थी। एक न्यूज एजेंसी ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें दिखाया गया है कि विकास दुबे के एनकाउंटर से कुछ समय पहले मीडिया और अन्य निजी गाड़ियों को रास्ते में ही रोक दिया गया था। इस पर भी सवाल उठ रहे हैं?
कानपुर टोल नाके के पास सचेंडी इलाके में मीडियाकर्मियों को आगे बढ़ने से रोक दिया गया।

इसके कुछ देर बाद ही गोलियों के चलने की आवाज सुनाई दी, फिर खबर आई कि विकास दुबे की गाड़ी पलट गई और भागने के क्रम में विकास दुबे मुठभेड़ में ढेर हो गया।

इसे भी पढ़ें :- वीडियो : वारासिवनी थाना क्षेत्र अंतर्गत सड़क दुर्घटना में एक कि मौत दो गंभीर घायल

दुबे कल ही उज्जैन में गिरफ्तार हुआ था। एसटीएफ की टीम उसे रिमांड पर यूपी लेकर आ रही थी। तभी बीच रास्ते में एसटीएफ टीम की गाड़ी पलट गई है। जो गाड़ी पलटी, उसी में विकास दुबे सवार था।

इसके बाद उसने पुलिस का हथियार छानकर भागने की कोशिश की। पुलिस सूत्रों के मुताबिक सुबह 6.30 बजे के करीब हुए एनकाउंटर में विकास दुबे मारा गया। इस घटना में एसटीएफ के चार जवान भी घायल हुए हैं।

कोई जवाब दें