थाना टी. टी. नगर में थाना प्रभारी के केबिन के अंदर घुसकर कांग्रेस प्रदर्शनकारियों ने किया जमकर नारेबाजी, सुरेंद्र सिंह को गिरफ्तार करने की माँग, वीडियो देखेँ

0
456
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

कमलनाथ का खून बहाने की धमकी देने वाला पूर्व भाजपा विधायक गिरफ्तार

भोपाल . भोपाल मध्य के पूर्व विधायक भाजपा के सुरेंद्र सिंह को आज अतिक्रमण के विरोध में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का खून बहाने की बात कही थी और उन्होंने टेलीफोन पर नगर निगम अधिकारी को धमकी भी दी थी कि अतिक्रमण हटाया गया तो अधिकारियों को नंगा करके घुमाएंगे इस बात को लेकर टीटी नगर थाना ने उनके खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा शांति भंग करने का प्रकरण दर्ज कल ही कर लिया था.

आज उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है जिला न्यायालय पेश किया जाने की  तैयारी है ऐसा अनुमान है कि उनको जमानत मिलने की उम्मीद नजर आ रही है  गिरफ्तार  के बाद उनके तेवर नरम नहीं पड़े उन्होंने कहा कि बाहर आ कर   निपट लूंगा इस संबंध में भाजपा के दिग्गज नेता किसी भी तरह की प्रतिक्रिया देने से बचते रहे और सुरेंद्रनाथ सिंह के पक्ष में  कोई खड़ा नहीं हुआ

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ का खून बहाने की खुले आम धमकी देने वाले भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि पूर्व विधायक ने कहा था, ‘सड़कों पर खून बहेगा और यह खून कमलनाथ (मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री) का होगा।’ सुरेंद्र नाथ का धमकी देते हुए यह वीडियो खूब वायरल हुआ था।

जानकारी के मुताबिक यह वाकया भोपाल में विधानसभा के बाहर कांग्रेस के खिलाफ प्रदर्शन के समय का है। उनके खिलाफ भीड़ को सरकारी अधिकारियों के खिलाफ उकसाने के आरोप में भोपाल के टीटी नगर में एफआईआर भी दर्ज करवाई गई थी।

बिजली बिल पर बोले थे, कोई कनेक्शन काटने आए तो पीट-पीट कर भगा देना

बता दें कि पिछले दिनों भोपाल में नगर निगम ने शहर के अलग-अलद क्षेत्रों में अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाकर अवैध गुमटियों को हटाया था। इसपर भाजपा नेता सुरेंद्र नाथ सिंह ने गुमटी वालों के साथ मिलकर विधानसभा का घेराव किया था। इस दौरान बढ़े बिजली बिल का मुद्दा भी सामने आया तो सुरेंद्र सिंह ने कहा था कि ज्यादा बिल मत चुकाना, अगर कोई कनेक्शन काटने आए तो पीट-पीट कर भगा देना।

इसे भी पढ़ें :- ठग ने ईनाम में कार दिलाने के नाम पर ‍लिपिक को ठगा, लिपिक ने गंवाये 4,75,000 रूपये

सुरेंद्रनाथ यहीं नहीं रुके थे। उन्होंने कहा कि बिजली नहीं आएगी तो वह सब वल्लभ भवन में घुस जाएंगे। सुरेंद्र नाथ जब भीड़ को उकसा रहे थे, उसी दौरान भीड़ ने ‘खून बहेगा सड़कों पर’ का नारा लगाना शुरू कर दिया तो उन्होंने आगे कहा, ‘और वो खून कमलनाथ का होगा।’

सुरेन्द्र नाथ सिंह को गिरफ्तार करने की मांग की

शुक्रवार को कांग्रेस के एक प्रतिनिधि मण्‍डल ने टी टी नगर थाने पहुंचकर शिकायत की कि पूर्व विधायक एवं भाजपा नेता सुरेन्द्रनाथ सिंह द्वारा बीते गुरूवार को अपने साथियों के साथ बिना किसी अनुमति के अवांछित तत्वों सहित भीड़ को एकत्र कर प्रदर्शन किया।

थाना टी. टी. नगर में थाना प्रभारी के केबिन के अंदर घुसकर कांग्रेस प्रदर्शनकारियों ने किया जमकर नारेबाजी, सुरेंद्र सिंह को गिरफ्तार करने की माँग, वीडियो देखेँ 

प्रदर्शन में उन्होंने असयमित, अमर्यादित व्यवहार करते हुए भरी भीड़ में प्रदेश के मुख्यमंत्री और प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष कमलनाथ का खून सड़कों पर बहाने की सरेआम घोषणा की। सुरेन्द्र नाथ सिंह के इस प्रकार की अमर्यादित बयान से जहां भाजपा का चाल, चरित्र और चेहरा सामने आया है, वहीं संवैधानिक पद पर बैठे प्रदेश के मुखिया के बारे में इस प्रकार की सोच रखने वाले भाजपा नेताओं की विचारधारा भी उजागर होती है।

इसे भी पढ़ें :- फर्जी नियुक्ति पत्र देकर लाखों रुपए की ठगी, सहायक ग्रेड-3 संदीप कुमार श्रृंगी तत्काल प्रभाव से निलंबित

प्रदेश कांगे्रस के उपाध्यक्ष संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर के नेतृत्व में कांगे्रस के एक प्रतिनिधि मंडल ने आज थाना टी.टी. नगर पहुंचकर थाना प्रभारी को एक ज्ञापन सौंप मुख्यमंत्री को जान से मारने की धमकी देने वाले भाजपा नेता सुरेन्द्रनाथ सिंह एवं साथियों की गिरफ्तारी की मांग की। उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से कहा कि ऐसे असामाजिक तत्व जो जन नेता होने का ढांेग करत हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री जैसे महत्वपूर्ण पद पर बैठे व्यक्ति की हत्या कर उनका खून सड़कों पर बहाने की धमकी दे रहा है, ऐसे व्यक्ति को तत्काल गिरफ्तार कर सीखचों के अंदर बंद किया जाना ही न्यास संगत होगा। इससे पूर्व हाल ही में इन्हीं भाजपा नेता सुरेन्द्र सिंह ने नगर निगम मुख्यालय पर अवैध रूप से ताला लगाकर शहर के कई क्षेत्रांे में शासकीय कार्यों में बाधा पहुंचायी और आम जनता को प्रदेश सरकार के खिलाफ भड़काया और उकसाया था।

कोई जवाब दें