कंप्यूटर बाबा जेल से हुए रिहा, सवाल पूछने पर कहा कुछ नहीं बोलूंगा

0
269
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

इंदौर: कंप्यूटर बाबा के नाम से प्रसिद्ध नामदेव दास त्यागी उर्फ कम्प्यूटर बाबा गुरुवार की रात इंदौर के जेल में दस दिन बिताने के बाद जमानत पर रिहा हो गए। कंप्यूटर बाबा ने जेल से निकलते ही अपने वकील रविंद्र सिंह छाबड़ा और विभोर खंडेलवाल का धन्यवाद किया। वहीं, प्रशासन से डरने के सवाल पर उन्होंने कहा कि मैं कुछ नहीं बोलूंगा। कंप्यूटर बाबा पर कई मामले दर्ज हो चुके हैं। कंप्यूटर बाबा पर 46 एकड़ गोशाला की जमीन पर कब्जा करने का आरोप है।

कंप्यूटर बाबा के नाम से प्रसिद्ध नामदेव दास त्यागी 11 दिन

बाद इंदौर की सेंट्रल जेल से रिहा हो गए. अवैध अतिक्रमण और अन्य मामलों में पिछले 11 दिनों से वो जेल में थे. कंप्यूटर बाबा ने जेल से निकलते ही अपने वकील रविंद्र सिंह छाबड़ा और विभोर खंडेलवाल का धन्यवाद किया. वहीं, प्रशासन से डरने के सवाल पर

उन्होंने कहा कि मैं कुछ नहीं बोलूंगा.

कम्प्यूटर बाबा के गोम्मट गिरी वाले आश्रम पर प्रशासन का बुलडोजर भी चला, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। कंप्यूटर बाबा के आश्रम से हथियार, कई जमीनों के कागजात और कई सारे बैंक अकाउंट नंबर भी बरामद किए गए। मध्यप्रदेश में जब कांग्रेस की कमल नाथ के नेतृत्व में सरकार थी तो कंप्यूटर बाबा को केबिनेट मंत्री का दर्जा था। कांग्रेस के तत्कालीन 22 विधायकों द्वारा विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के साथ भाजपा का दामन थाम लेने से सरकार गिर गई।

उसके बाद भाजपा सत्ता में आई। राज्य में 28 सीटों पर उप-चुनाव की स्थिति बनी तो कंप्यूटर बाबा ने लोकतंत्र बचाओ यात्रा निकाली थी और सभी क्षेत्रों में जाकर भाजपा के उम्मीदवारों के खिलाफ प्रचार किया था। साथ ही भाजपा पर कई गंभीर आरोप भी लगाए थे। मतदान की तारीख के बाद कंप्यूटर बाबा के खिलाफ मामले दर्ज होने का सिलसिला शुरु हुआ और 9 नवंबर को उन्हें गिरफ्तार कर उनके आश्रम को जमींदोज कर दिया गया।

कोई जवाब दें