उद्योगों में कार्यरत श्रमिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करवाने की जिला कलेक्टर से मांग

0
145
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

असंगठित मजदूर कांग्रेस के प्रदेश संयोजक ने जिला कलेक्टर के समक्ष उठाई मांग

नागदा जं.। औद्योगिक शहर नागदा मे असंगठित मजदूर कांग्रेस के प्रदेश संयोजक अभिषेक चौरसिया ने जिला कलेक्टर श्री आशीष सिंह से नागदा स्थित ओद्यौगिक इकाइयों मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. में कार्यरत श्रमिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करवाने हेतु ओचक निरीक्षण एवं वीडियोग्राफी करवाए जाने के संबंध में पत्र भेजकर मांग उठाई हैं ।

शासन का ध्यान आकर्षित करवाते हुए तत्काल कार्यवाहीं की निम्नलिखित बिंदुओं पर की है मांग

1) मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. के समस्त श्रमिकों को उद्योग द्वारा उपलब्ध करवाए जा रहे भोजन एवं अन्य खाद्य सामग्रियों का निरीक्षण करवाया जाए ।
2) मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. के समस्त श्रमिकों के पेयजल की व्यवस्था की वीडियोग्राफी करवाई जाए ।
3) मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. के समस्त श्रमिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करवाने हेतु उद्योग के भीतर प्रवेश से लेकर बाहर आगमन तक की वीडियोग्राफी करवाई जाए ।
4) मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. के प्रोडक्शन प्लांट के भीतर मजदूरों के मध्य सोशल डिस्टेंसिंग की वीडियोग्राफी करवाई जाए ।
5) मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. में कितने मजदूर प्रतिदिन किस शिफ्ट में कार्य कर रहे हैं उनकी पूर्ण सूची शासन को उपलब्ध करवाई जाए ।
6) मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. में कार्यरत समस्त श्रमिकों की सुरक्षा के लिए शासन द्वारा सप्ताह में दो बार ओचक निरीक्षण करवाया जाएं । जिससे मजदूरों में सुरक्षा की भावना जागृत हो सकें ।
7) मेसर्स ग्रेसिम इंडस्ट्रीज लिमिटेड (स्टेपल फाइबर डिवीजन), लेक्सेस इंडिया प्रा. लि., ग्रेसिम केमिकल डिवीजन एवं गुलब्रांड सन लि. में कार्यरत समस्त श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण करवाया जाए । ताकि श्रमिकों में किसी तरह का संक्रमण का ख़तरा नहीं हो ।

चौरसिया ने बताया कि इन उद्योगों में कार्यरत समस्त श्रमिक नागदा शहर एवं आसपास स्थित विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों से कार्य पर आते हैं । अगर एक भी श्रमिक संक्रमित हो गया तो संक्रमण फैलने का ख़तरा शहर में बढ़ने की संभावना बड़ जाएगी इसीलिए शासन को तत्काल श्रमिकों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए उनका स्वास्थ्य परीक्षण करवाया जाना जरूरी हैं।

कोई जवाब दें