आर्ट ऑफ लिविंग का स्वास्थ्य को लेकर 16 दिवसीय फिटनेस चैलेंज आज से

0
383
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ बालाघाट // वीरेंद्र श्रीवास 83196 08778

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 9893221036

बालाघाट: आर्ट ऑफ लिविंग के प्रणेता गुरू श्री श्री रविशंकर द्वारा पूरे विश्व को योग से निरोग रहने का संदेश दिया है, आर्ट ऑफ लिविंग पूरे विश्व मेंशरीर को स्वस्थ्य रखने व मन को चिंता से मुक्ति के लिए योग का मार्ग बताती है। इसी कड़ी में आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा पूरे विश्व मंे जनवरी को स्वास्थ माह के रूप में मनाया जा रहा है।

इसी कड़ी में आर्ट ऑफ लिविंग द्वारा मानव शरीर को स्वास्थ्य रखने के लिए 6 जनवरी से 21 जनवरी तक आँनलाईन फिटनेस चैलेंज का आयोजन किया जा रहा है। जिसको लेकर आर्ट ऑफ लिविंग के प्रशिक्षक सुरजीतसिंह ठाकुर ने बताया कि यह 16 दिवसीय चैलेंज न केवल आम लोगों को स्वास्थ्य रखने के लिए दिया जा रहा है अपितु इस चैलेंज को स्वयं आर्ट ऑफ लिविंग के साधक भी ले रहे है। आम लोगों के स्वास्थ्य को लेकर आर्ट ऑफ लिविंग भी लोगों से अपील करता है कि वह इस चैलेंज के साथ आँनलाईन जुड़कर मन और स्वास्थ्य को निरोग और मजबूत बनाये।

प्रशिक्षक सुरजीतसिंह ठाकुर ने बताया कि 16 दिन के आँनलाईन फिटनेस चैलेंज में आप अपने आप को एक चुनौती के साथ बदलें। इसमें कोई किसी को जिम नहीं करना है और न ही इससे किसी को कोई दिक्कत होनी है। आपको किसी उपकरण की आवश्यकता नहीं है। न ही आपको महंगी जिम सदस्यता की आवश्यकता है और न ही आपको कहीं जाने की जरूरत है।

यह फिटनेस चैलेंज पूर्णतः निःशुल्क है, जिसे हर व्यक्ति अपने घर में आराम से आँनलाईन संसाधन मोबाईल, कम्प्यूटर व टी वी में देखकर कर सकता है। इसमें आपको किसी चीज की जरूरत नहीं है। एक चटाई इसे आपके लिए अधिक आरामदायक बना देंगे, जिसे सभी आयु वर्ग के लोग कर सकते हैं। हां, केवल इस बात का ध्यान रखे कि यदि किसी को चिकित्सा संबंधी समस्या है तो पहले कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श ले ले। 16 दिन की फिटनेस चुनौती इंटरस्टेलर वर्क आउट, आराम से ध्यान और महान जीवन शैली युक्तियों को एक साथ लाती है। जिसके लिए साधक स्वयं और अपने लोगों को भी इसके लिए प्रेरित कर सकता है।

 

कोई जवाब दें