आरक्षकों की सूझबूझ एवं सतर्कता से तीन वर्षीय बालक सुरक्षित, बच्चे को उसकी मां के सुपुर्द किया, ये रही वजह

0
293
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ, जिला इंदौर // मनोज मिश्रा  : 9907289069

  • आरोपी रंगेहाथ घटना के पूर्व गिरफ्तार     
  • वरिष्ठ अधिकारियों की कार्ययोजना को आरक्षकों ने किया सफल 

इंदौर. दिनांक 11-06-2019 को बीट वल्लभ नगर में रात्री गस्त में ड्यूटीरत आर 2234 धरमसिंह व आर 2501 कमलकिशोर को रात्री 02 बजे से 02.30 बजे के आसपास धार्मिक स्थल चैकिंग के दौरान उक्त सिपाहियों को एक व्यक्ति राजकुमार ब्रिज के नीचे बौगदे में एक तीन साल के लडके को लिये हुए संदिग्ध अवस्था में छिपा मिला, जिसे घेराबन्दी कर पकडा गया।

पूछताछ करते उसने अपना नाम विजय पिता सुरेश उम्र 37 साल निवासी राधाकृष्ण मंदिर के पीछे पंचम की फेल इन्दौर का होना बताया तथा उक्त व्यक्ति नशे मे होना पाया गया । आरक्षकगणों द्वारा संवेदनशीलता एवं दूरदर्शिता दिखाते हुए अन्य ड्यूटीरत स्टाफ को साथ में लेकर बच्चे के मातापिता की तलाश की गयी, जो उक्त बच्चे की मां मरीमाता मंदिर न्यू देवास रोड इन्दौर पर बच्चे की तलाश करती हुई मिली जिसके द्वारा बताया गया कि सोते समय कोई उसके बच्चे को उठाकर ले गया था। बाद उक्त बच्चे को उसकी मां के सुपुर्द किया गया ।

पूछताछ पर जानकारी मिली कि बालक की मां बिहार की रहने वाली है और तीन दिन पूर्व उसके परिचित द्वारा कहीं छोडकर चले जाना बताया जिसके कारण वह तीन दिन से पुल के नीचे ही रह रही थी, जहां आरोपी दो दिन से उसके बच्चे को टाफी आदि देकर बहलाफुसलाकर ले जाने का प्रयत्न कर रहा था परन्तु उसकी माँ ने नही ले जाने दिया था, रात्री में सोते समय आरोपी द्वारा लाभ उठाकर चुपचाप बच्चे को उठाकर ले गया था।

महिला की रिपोर्ट पर आरोपी के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। आरोपी का उसकी पत्नी से दस साल पूर्व विवाद हो गया था जिसके कारण आरोपी बिना पत्नी के अकेला ही रहा था । महिला एवं बालक की देखरेख एवं व्यवस्थापन हेतु थाना तुकोगंज की महिला डेस्क प्रभारी उनि मीना बौरासी द्वारा व्यवस्था की जा रही है । उक्त सराहनीय कार्य में थाना तुकोगंज के उनि मीना बौरासी, सउनि भंवरलाल सैरोके, आर 2234 धरमसिंह व आर 2501 कमलकिशोर की अहम भूमिका रही ।

कोई जवाब दें