आदिवासी समुदाय की महिलाओं ने किया विरोध और कहा आदिवासी समाज स्वयं को हिन्दू नही मानता

0
488
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ रायगढ़  // उत्सव वैश्य : 9827482822 

अब राम भक्त हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

दुर्ग जिले में आदिवासी महिलाओं ने राज्यपाल के नाम एस डी एम को ज्ञापन सौंपा

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने नई सरकारी योजना राम वन गमन पथ के तहत 10 करोड़ रुपए स्वीकृत किया है, जिसमे 51 जगह राम मंदिर निर्माण का कार्य होगा, जिसका विरोध आज छत्तीसगढ़ की आदिवासी महिलाओं ने किया.

आदिवासी समुदाय की महिलाओं ने साफ कहा कि भूपेश बघेल उनके समुदाय के ऊपर हिन्दू धर्म ना थोपे, आदिवासी समाज स्वयं को हिन्दू नही मानता है । अतः मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आदिवासी समुदाय के ऊपर हिन्दू धर्म थोपने की कोशिश ना करे उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज प्रकृति की पूजा करता है व उनका देवता आंगा देव है उनके बीच कभी राम का जिक्र भी नही होता है।

आदिवासी समाज की महिलाओं ने बताया कि बस्तर संभाग 5वी अनुसूची क्षेत्र है, और ये अनुसूचित क्षेत्र होने के कारण बिना ग्राम सभाओं की इजाजत के यहा किसी भी प्रकार का निर्माण कार्य असंवैधानिक है ।

ये अनुसूचित क्षेत्र होने के कारण यहां सरकारी धन का उपयोग बेरोजगारी, गरीबी, अशिक्षा, स्वास्थ्य सुविधाओं, के लिए होना चाहिए, यहाँ मंदिर निर्माण का कार्य जनता के पैसा व सरकारी धन का दुरुपयोग है..

कोई जवाब दें