अमिलिया घाटी अंधा मोड़ पर अनियत्रित होकर सवारी बस पलटी, नशे की हालत में चालक ने दिया बड़ा हादसे को अंजाम

0
161
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

जिला ब्यूरो चीफ सिंगरौली  // नीरज गुप्ता  7771822877 

  • अमिलिया घाटी अंधा मोड़ पर अनियत्रित होकर सवारी बस पलटी या नशे की हालत में किया गया लापरवाही या हुई प्रशासन की सबसे बड़ी चूक
  • 1 दर्जन हुये घायल, उक्त बड़ा हादसा का जिम्मेवार कौन
  • घायलों को स्थानीय पुलिस और 108 की मदद से जिला अस्पताल में उपचार हेतु कराया गया भर्ती

सिंगरौली. दिनांक 12/02/2020 को लगभग 4 से 5 बजे के बीच लंघाडोल से बैढन राहुल बस सर्विस क्र. MP 66 P 0402 बन्धौरा पुलिस चौकी क्षेत्र के अमिलिया घाटी से बस उतरते समय अंधा मोड़ पर बस अनियंत्रित होकर कई पलटी मार पलट गई | जिसमें शीट से 44 (लगभग) शीटर बस में 60 – 70 लोग यात्रा कर रहे थे | विश्वस्त सूत्रों की माने तो लंघाडोल से बस बैढन की ओर चलने समय बीच मे एक होटल में बस ड्राइवर व कंडेक्टर और कुछ यात्रियों सहित खाना खाया |

वही बस ड्राइवर व कंडेक्टर मदिरा का सेवन भी किया | जिसके बाद बस को लहराते हुए मटक-मटक कर बस चलाते हुए बैढन की ओर चलते हुए रास्ते मे ही हुई दुर्घटनाग्रस्त जिसमे लगभग दर्जनों यात्री हुये घायल है एक की हालत हुई गम्भीर, एक बड़ा हादसा में अपने किस्मत से बचे लोग ।

स्थानीय पुलिस और 108 की मदद से जिला चिकित्सालय में उपचार हेतु भर्ती कराया गया

जिसमें घायल इंदिरामती सेन पति रामभजन सेन उम्र 50 वर्ष निवासी- मझौली पाठ को कमर पैर कूल्हे में गंभीर चोट आयी चोटें आयी हैं (2) रामभजन सेन पिता- छोटे 58 वर्ष निवासी मझौली हाथ के पंजे के उंगली में चोट आयी है (3) जीरा देवी पति दलपत प्रताप दलप्रताप शर्मा उम्र 75 वर्ष निवासी बंधौरा सीना – कमर – सर में चोट आयी हैं निवासी – बन्धौरा, (4) लीलावती पति जियालाल शाह उम्र 40 वर्ष निवासी खोखरी को सीना – कमर – हाथ – पैर में चोटें आयी हैं (5) सुबेलाल पिता गंगा शाह उम्र 45 वर्ष निवासी धिरौली – झलरी को सिर पलई व गले में चोटें आयी हैं (6) रामसागर प्रजापति पिता- राजमन प्रजापति उम्र 54 वर्ष निवासी- झलरी को सीना – गर्दन हाथ पैर में चोटें आयी हैं जिनका उपचार पुराना जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है |

वही यात्रा कर रहे यात्रियों का कहना है

वही उस बस से यात्रा कर रहे रामभजन सेन मझौली पार्ट के रहने वाले बैढन आ रहे थे, के द्वारा बताया गया कि नशे की हालत में ही झरली से बस अनियंत्रित हो चालक द्वारा चलाया जाना बताया गया | जिसे नशे की हालत में कंडेक्टर भी नही रोक सका |

जिससे हुई बड़ा हादसा

  • स्याम सुंदर प्रजापति पिता सुख लाल प्रजापति का कहना हैं कि डोंगरी में एक होटल में खाना खाने के दर्मियान ही बस चलाज व परिचालक द्वारा मदिरा का सेवन कर यात्रियों से बदतमीजी करते हुए आ रहे थे कि अचानक बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई |
  • बाद बस ड्राइवर व कंडेक्टर घटना स्थल से हुए फरार
  • वही गड़वा टोला में पदस्त नगरसेना संरसी लाल द्वारा बताया गया कि उक्त बस को लापरवाही पूर्वक चलाया जा रहा था जिससे हुई दुर्घटनाग्रस्त

वही विश्वस्त सूत्रों की माने तो उक्त बस क्रमांक MP-66-P-0402 दिनेश कुमार दुबे के नाम पर रजिस्ट्रर्ड हैं | जिसका परमिट नही बताया गया | उक्त बस किसके रहमो – करम से बिना परमिट के ही क्षेत्र में भ्रमण कर यात्रियों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले का रही थी ये कौन बतायेगा ? विश्वस्त सूत्रों की माने तो जिम्मेदार अधिकारियों की मिली भगत से ही क्षेत्र में कई बसें बिना परमिट के ही दौड़ाती नजर आती हैं | जिसका रोक – टोक आखिर कौन करे ? एक ऑटो या मोटरसाइकिल वालों से ही मोटी रकम का चालान काटने वालों द्वारा खाना पूर्ति कर ली जाती हैं फिर इन बिना परमिट बेरोक – टोक दौड़ाने वाली बसों की जांच कौन करेगा यह कौन बतायेगा ?

कोई जवाब दें