अपहरण के बाद हुये मर्डर के सनसनीखेज अंधे कत्ल का 24 घण्टे में पर्दाफाश, 2 आरोपी गिरफ्तार

0
228
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

खबरों और जिले, तहसील की एजेंसी के लिये सम्पर्क करें : 98932 21036

इन्दौर. पुलिस थाना बेटमा पर दिनांक 11.04.19 को शाम करीबन 06.30 बजे फोन पर सूचना मिली कि 02 अज्ञात बदमाशों द्वारा 01 मोटर साइकिल चालक का अपहरण किया गया है। उक्त घटना पर कार्यवाही करतें हुए थाना प्रभारी बेटमा धीरेन्द्र पाल सिंह चौहान व उनकी टीम द्वारा  अपहरण व अपघता के अंधे कत्ल का पर्दाफाश कर 24 घण्टे के भीतर 02 आरोपियों को पकडने में महुत्वपूर्ण सफलता प्राप्त की है।

पुलिस थाना बेटमा पर दिनांक 11.04.19 को शाम करीबन 06.30 बजे 02 अज्ञात बदमाशों द्वारा 01 मोटर साइकिल चालक का अपहरण किया गया था जिसकी पतारसी हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इन्दौर शहर श्रीमती रूचिवर्धन मिश्र के द्वारा उक्त घटना का पर्दाफाश कर आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिये गयें।

इसे भी पढ़ें :- मुरैना लोकसभा कांग्रेस के प्रत्याशी रामनिवास रावत के भाई के प्रभाव वाले वैरियर पर लाखो की अवैध वसूली

उक्त निर्देश के तारतम्य में पुलिस अधीक्षक पश्चिम श्री सूरज कुमार वर्मा व अति. पुलिस अधीक्षकदेहात श्री धर्मराज सिंह मीणा के मार्गदर्शन में एसडीओपी देपालपुर श्री रामकुमार राय के द्वारा थाना प्रभारी बेटमा श्री धीरेन्द्र पाल सिंह चौहान के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन कर कार्यवाही के लिए समुचित दिशा निर्देश दिये गयें। उक्त निर्देश पर कार्यवाही करतें हुए पुलिस टीम द्वारा अपनी सूझबूझ से अपहरण हुये व्यक्ति के परिवार वालो से सम्पर्क किया तथा बैग को चेक करते उसमें रखे जमीन की पावती व अन्य दस्तावेज मिलने पर अपघत के मोबाइल से प्राप्त नम्बरों पर चर्चा कर उसके संबंध में जानकारी ली।

इसे भी पढ़ें :- अनिल अंबानी की कंपनी का टैक्स माफ होने का रफाल सौदे से कोई संबंध नहीं

जिस पर जानकारी प्राप्त हुई कि अपघत शिवजीराम पटेल पिता रणछोड पटेल जाति खाती निवासी छोटा टिगरिया देवास का जमीन के केस की तारीख पर नालछा जिला धार कोर्ट गया था। जिसका ग्राम बगडी थाना नालछा के माणिक व पवन से जमीनी विवाद चल रहा है। पुलिस टीम द्वारा कार्यवाही करतें हुए मेठवाडा टोल टैक्स के फुटेज देखे व साइबर सेल महू के माध्यम से संदेहियों के मोबाइल नम्बर की टॉवर लोकेशन की जानकारी प्राप्त की गई।

इसे भी पढ़ें :- भारत के इतिहास में पहली बार एक महिला को होगी फाँसी की सजा

थाना प्रभारी द्वारा आसपास के लोगो से उक्त संबंध में पूछताछ कर जानकारी एकत्रित की व अपहरणकर्ताओं के संबंध में व उनके द्वारा प्रयुक्त मोटर साइकिल केसंबंध में जानकारी प्राप्त कर, तत्काल संदेहियों माणिक व पवन की तलाश हेतु नालछा जिला धार पहुचकर संदेहिंयो के मिलने के संभावित स्थानों पर दबिश दी गई। जहां पर संदेही माणक पटेल ग्राम बगडी स्थित अपने घर में पास छुपा मिला जिसे पकडकर उसके साथी संदेही पवन के संबंध में पूछताछ करनें पर अलग-अलग बताकर पुलिस को गुमराह करने लगा।

इसे भी पढ़ें :- ई-टेंडर घोटाले के बाद अब माखनलाल विवि की गड़बड़ियों पर होगी एफआईआर : कमलनाथ सरकार

जिससे हिकमतअमली से पूछताछ करते मित्तल अस्पताल जिला धार मे होना बताया। जहां से टीम तत्काल मित्तल अस्पताल धार पहुची जहां पर संदेही पवन पटेल मिला जिन्हे हिरासत में लिया गया। दोनो संदेहियों ने शुरूआती पूछताछ में पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया। अगले दिन प्रातः  शिवजीराम पटेल की लाश वाजपेयी ग्रुप इन्दौर के खेत ग्राम झलारिया मेठवाडा रोड पर बने मकान के पीछे मिली। मृतक के सिर एवं चेहरे पर ठोस चीज से वार कर हत्या करना प्रतीत हो रहा था, आवश्यक मौके की कार्यवाही की गई।

इसके बाद संदेहियों से बारिकी से सघन पूछताछ की गई तो उन्होने 2011 से चल रहे जमीन के प्रकरण से परेशान होकर योजनाबद्ध तरीके से मृतक शिवजीराम का पीछा कर पीरपिपल्या के पास से अपहरण कर वाजपेयी ग्रुप इन्दौर वालो के खेतके मकान के पीछे ले जाकर ईंट व पत्थर से उसके सिर व चेहरे पर वार कर उसकी हत्या करना कबूल किया। आरोपियों को गिरफ्तार किया गया, घटना स्थल के चश्मदीद साक्षियों से आरोपियों की शिनाखत होना है इसलिये उन्हे व पर्दा रखा गया है।

इसे भी पढ़ें :- ऑनलाईन शॉपिंग के नाम पर ठगी , OLX में पुरानी कार खरीदने paytm से भुगतान ,न कार मिली न पैसा, 420 का अपराध दर्ज

उक्त सराहनीय कार्यवाही में थाना प्रभारी बेटमा धीरेन्द्र पाल सिंह चौहान,  उनि बिहारी सांवले, उनि वीरेन्द्र सिंह सिकरवार, पी.एस.आई. मनीष माहौर, रोशनी जैन, सउनि अजीत सिंह पवांर, सउनि यतिन्द्र मिश्रा, प्रआर. 36 जगदीश भांभर, प्रआर. मुकेश नागर आर. योगेश आर. 2924 राजेश पटेल आर. 3000 ज्ञानेन्द्र सिंह आर. 3785 कमलेश आर. 1270 रत्नेश, आर.. 3901 मुकेश की सराहनीय भूमिका रही। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय ने 24 घण्टे के अन्दर अपहरण एवं हत्या के आरोप का खुलासा करने में सफलता प्राप्त करने पर उक्त टीम को नगद इनाम से पुरूष्कृत करने की घोषणा की है ।

कोई जवाब दें