अधिक राशि के बिजली बिल के विरोध मे ग्रामीणों और शहर वासियो ने जलाए बिजली बिल के प्रतीकात्मक कोरे कागज

0
172
Spread the love

TOC NEWS @ www.tocnews.org

ब्यूरो चीफ नागदा, जिला उज्जैन // विष्णु शर्मा 8305895567

नागदा. मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बसंत मालपानी के आव्हान पर अधिक राशि के बिजली के बिल के विरोध स्वरूप बिजली के बिल के प्रतीकात्मक कोरे कागज की होली 21 मई गुरुवार को रात्रि 8 बजे एक साथ ग्रामीण और शहरी मे नागरिकों द्वारा जलाई गई।

लॉकडाउन और सोशल डिस्टनसिंग का पालन करते हुए मालपानी ने अपने घर की छत पर कागज की होली जलाते हुए अधिक राशि के आ रहे बिजली बिलों का विरोध किया। श्री मालपानी ने कहा की कमलनाथ सरकार में बिजली के बिल काफी कम आ रहे थे।

प्रदेश की 85 प्रतिशत जनता को इसका लाभ मिल रहा था लेकिन जोड़ तोड़ और खरीद फरोख्त कर सरकार के मुखिया बने भाजपा के शिवराजसिंह ने आते ही बिजली के बिल चार गुणा बडा दिए।उन्हें सोचना चाहिए की देश प्रदेश में लॉकडाउन के चलते सभी के पास काम धंधे नही रोटी खाने का संकट है ऐसे में जनता बिल कैसे भरेगी।

हम आज अपना विरोध व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से मांग करते है की लॉकडाउन की अवधि के बिजली के बिल माफ किये जायें और आगामी समय में कमलनाथ सरकार की जनहितैषी इंदिरा गृह ज्योति योजना को लागू किया जाए। श्री मालपानी ने सहयोग और समर्थन की लिए जनता का आभार व्यक्त किया।

कोई जवाब दें